Breaking News

शिवरात्रि के दिन कुंवारी कन्याएं करें इन मंत्रों का जाप, तो मिलेगा मनचाहा वर

By Lalit Singh

धर्म-कर्म | Published On: 12 Feb, 2018 | 6:37 PM GMT 05:30+

शिवरात्रि के दिन कुंवारी कन्याएं करें इन मंत्रों का जाप, तो मिलेगा मनचाहा वर

देश में 13 और 14 को शिवरात्रि मनाई जाएगी। इसे लेकर शिवभक्तों की जमकर तैयारी है। बता दें कि शिवरात्रि शिव भक्तों का बहुत प्रिय त्यौहार है। वैसे तो हर माह की कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को शिवरात्रि होती है, लेकिन फाल्गुन मास की कृष्ण पक्ष की शिवरात्रि को महाशिवरात्रि के नाम से जाना जाता है। ये हिंदू धर्म के लोगों के लिए विशेष महत्व रखती है। इस पर्व को किसी भी अन्य पर्व, व्रत एवं विधान से बढ़कर माना जाता है। कहा जाता है कि सभी अन्य पर्व मिलकर भी महाशिवरात्रि की तुलना नहीं कर सकते। धर्म ग्रथों में भी इस पर्व को सबसे उत्तम व बड़ा माना है। इस दिन किए गए व्रत एवं धार्मिक कार्य जरूर सफल होते हैं।

यदि किसी भक्त के मन में कोई इच्छा हो और वह महाशिवरात्रि के दिन उसे पूर्ण करने के लिए पूरी श्रद्धा से भोले की आराधना करता है, तो ऐसा माना जाता है कि उसकी इच्छा जरूर पूरी होती है। जानें, महाशिवरात्रि के दिन किस तरह पूजा करनी एवं कौन से मंत्र का उच्चारण करना चाहिए।

Read more:Valentine Day Special 2018 : इस एक्ट्रेस की मुस्कान पर फिदा हुआ सोशल मीडिया, देखें वीडियो

कुवारी कन्याओं ये करें

महाशिवरात्रि का दिन सबसे पहले उन कन्याओं के लिए महत्वपूर्ण माना जाता है, जो कुंवारी हैं। महाशिवरात्रि भगवान शिव एवं माता पार्वती के विवाह का दिन है, इसलिए विवाह से जुड़ी सभी इच्छाओं की पूर्ति के लिए इस दिन पूजा करना शुभ है। यदि किसी कारणवश किसी कन्या का विवाह नहीं हो रहा हो, तो उसे महाशिवरात्रि का व्रत करना चाहिए। इस दिन व्रती को फल, पुष्प, चंदन, बिल्वपत्र, धतूरा, धूप, दीप और नैवेध से चार प्रहर की पूजा करनी चाहिए।

व्रती को दूध, दही, घी, शहद और शक्कर से अलग-अलग तथा सबको मिलाकर पंचामृत से शिव स्नान कराकर जल से अभिषेक करना चाहिए। चार प्रहर के पूजन में शिव पंचाक्षर “ॐ नम: शिवाय” मंत्र का जाप करें। भव, शर्व, रुद्र, पशुपति, उग्ग्र, महान, भीम और ईशान, इन आठ नामों से भगवान शिव को पुष्प अर्पित करें और उनकी आरती उतारकर परिक्रमा करें। महाशिवरात्रि को इन मंत्रों का सही उच्चारण करें।

मंत्र- "ॐ ऐं ह्रीं शिव गौरीमव ह्रीं ऐं ॐ"

Read more:केंद्रीय मंत्री उमा भारती अब नहीं लड़ेंगी कोई चुनाव,बताई यह वजह

शिवरात्रि के दिन इस मंत्र का पाठ करने से भगवान शिव से मन मुताबिक वरदान की प्राप्त होती है।

घर में सुख-शांति एवं महिलाएं यदि सौभाग्य के लिए भोले शंकर से वरदान पाने के लिए भगवान शिव की पूजा करके दुग्ध की धारा से अभिषेक करते हुए इस मंत्र का उच्चारण करना चाहिए - "ॐ ह्रीं नम: शिवाय ह्रीं ॐ"

यदि किसी कन्या की शादी में देरी हो रही है तो उसे इस शिव मंत्र के साथ माता पार्वती की भी इस मंत्र से उपासना करनी चाहिए, “हे गौरि शंकरार्धांगि यथा त्वं शंकरप्रिया”।

INH News


Title For Web: Mahashivratri: special mantra for unmarried woman
Mahashivratri Special mantra Unmarried woman Unmarried girl Lord shiva Pujan vidhi Pujan vrat kata Subh muhart
Trending
1/50

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर