Breaking News
  • बीजापुर : मिलिशिया कमांडर अवलम मंगू गिरफ्तार, आईईडी प्लांट का मास्टर माइंड है नक्सली मंगू, जवानों को निशाना बनाने की फिराक में था नक्सली, पुलिस ने पालनार के जंगलों से अरेस्ट किया।
  • मुंगेली : 2 अलग सड़क हादसे में 3 लोग घायल, 1 बजुर्ग सहित 2 लोग हुए घायल, 1 को जिला अस्पताल में किया गया भर्ती, 2 बिलासपुर सिम्स रेफर, कोतवाली थाना क्षेत्र की घटना।
  • जांजगीर : पारिवारिक विवाद में पत्नी को छत से दिया धक्का, सट्टा और शराब का लती है गिरफ्तार पति, महिला की हालत गंभीर।
  • पटना : बिहार के सीएम नीतीश कुमार की जापान यात्रा पर पूर्व उप मुख्यमंत्री ने कसा तंज, कहा- ‘शुरू हुई ढलान तो चच्चा चले जापान’।
  • नई दिल्ली : कोयला खनन में लगी सरकारी कंपनी CIL का एकाधिकार खत्म, केंद्र सरकार ने दी प्राइवेट कंपनियों को हरी झंडी।
  • नई दिल्ली : पीएनबी घोटाले पर बोले अन्ना हजारे, ‘देश को भ्रष्टाचारमुक्त नहीं बनाना चाहती सरकारें’।
  • काठमांडू : नेपाली पीएम केपी ओली का बयान, ‘भारत से और लाभ उठाने के लिए चीन से गहरा करना चाहते हैं रिश्ता’।

कॉन्डम यूज करने वालों में अविवाहित महिलाओं की संख्या सबसे ज्यादा, इस उम्र की ल​ड़कियां ज्यादा क्रेजी

By Lalit Singh

राष्ट्रीय | Published On: 29 Jan, 2018 | 2:10 PM GMT 05:30+

कॉन्डम यूज करने वालों में अविवाहित महिलाओं की संख्या सबसे ज्यादा, इस उम्र की ल​ड़कियां ज्यादा क्रेजी

नई दिल्ली: स्वास्थय मंत्रालय ने एक सर्वे जारी किया है। इसके अनुसार बिना शादी के और सेक्सुअल एक्टिव महिलाएं सेक्स के दौरान सेफ्टी को महत्व दे रही हैं। नेशनल फैमिली हेल्थ सर्वे 2015-16 के मुताबिक पिछले 10 साल में कॉन्डम का इस्तेमाल 2 फीसदी से 12 फीसदी बढ़ गया है।

सर्वे के अनुसार ये महिलाएं 15 से 49 साल के उम्र के बीच की हैं। वहीं 20 से 24 साल की सेक्शुअली एक्टिव अविवाहित लड़कियों के बीच कॉन्डम का सबसे ज्यादा इस्तेमाल होता है। ज्यादातर पुरुषों ने सर्वे में कहा कि गर्भनिरोध की जिम्मेदारी महिलाओं की होती है। इस सर्वे से साफ जाहिर हो रहा है कि अविवाहित सेक्शुअल एक्टिव महिलाएं सेफ्टी को ज्यादा महत्व दे रही हैं।

Read more: रायपुर: सेंट्रल स्कूल में छात्राओं के ड्रेसिंग सेंस को लेकर पालकों ने मचाया बवाल, शिक्षिका पर लगे गंदे आरोप

एक अच्छी खबर यह है कि इन अविवाहित महिलाओं के अलावा 99 फीसदी शादीशुदा महिलाओं और पुरुषों को गर्भनिरोधक की कम से कम एक तरीके से जानकारी जरूरी है। वहीं 15 से 49 साल के बीच की शादीशुदा महिलाओं के बीच कॉन्ट्रसेप्टिव प्रिवलेंस रेट यानी गर्भनिरोधक प्रचार दर महज 54 फीसदी है। इनमें शामिल 10 फीसदी महिलाओं को आधुनिक तरीके से गर्भनिरोधक की जानकारी है। इन तरीकों में कॉन्डम, गर्भनिरोधक गोलियां और नसबंदी शामिल है।

Read more: सर्वे: रहने के लिए दुनिया का दूसरा सबसे सस्ता देश है भारत, नंबर वन पर है ये

सर्वे में लोगों ने बताया कि गर्भनिरोध के तरीकों में शामिल कॉन्डम पर वे ज्यादा भरोसा करते हैं। इसके अलावा कॉन्डम से लेकर अन्य गर्भनिरोधक तरीके अपनाने वाले राज्यों में पंजाब सबसे आगे है। मणिपुर, बिहार और मेघालय में सबसे कम गर्भनिरोध के तरीकों का इस्तेमाल होता है, जहां 24 फीसदी आंकड़ा रहा है, जबकि पंजाब में 76 फीसदी है।

INH News


Title For Web: survey: unmarried women uses to more condoms than married couples
survey: unmarried women uses Condoms Married couples male- female Sex Sexually active women
Trending
1/50

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर