Breaking News

Watch : फिल्म न्यूटन का बाल कलाकार नक्सल इलाके में पकौड़ा बेचने के लिए मजबूर

By Sanjeet Tripathi

छत्तीसगढ़ खबर | Published On: 12 Feb, 2018 | 6:34 PM GMT 05:30+

Watch : फिल्म न्यूटन का बाल कलाकार नक्सल इलाके में पकौड़ा बेचने के लिए मजबूर

कोंडागांव : ऑस्कर के लिए नॉमिनेट हो चुकी हिंदी फिल्म न्यूटन का बाल कलाकार नक्सलगढ़ में पकौड़ा बेच कर अपने परिवार की मदद करने को मजबूर है। जिले के घोर माओवादी इलाके ग्राम बयानार में inh news की मुलाकात एक छोटे से होटल में काम कर रहे 15 वर्षीय सुक्कू नेताम से हुई तो उसने बताया कि आस्कर की दौड़ में शामिल हो चुकी बॉलीवुड फिल्म न्यूटन में बाल कलाकार के रूप में उसने अभिनय किया है।

आदिवासी किशोर सुक्कु नेताम अपने परिवार की माली हालात को देखते हुए जिले के नक्सल प्रभावित इलाका बयानार में अब पकौड़ा बेचने को मजबूर हैं। मजबूरी इतनी कि वह माध्यमिक तक की पढ़ाई करने के बाद, पढ़ाई छोड़ काम की तलाश करने लगा और काम मिला भी तो माओवादी इलाके में। 

कोरोबेड़ा का रहने वाला यह आदिवासी किशोर अपनी आगे की पढ़ाई तो करना चाहता है, लेकिन आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने से परिवार का साथ देना इस बाल कलाकार ने बेहतर समझा और घर से निकल कर रोजी रोटी कमाने में जुट गया।

हाल ही में बनी फिल्म न्यूटन की शूटिंग छत्तीसगढ़ के बालोद जिला में हुई थी, जिसमें बस्तर नक्सल इलाके के आदिवासी कलाकारों ने बहुत ही अच्छा प्रदर्शन किया था। इन्ही कलाकारों में सुक्कू नेताम भी शामिल है जिसने बाल कलाकार का रोल अदा किया है। फिल्म न्यूटन ऑस्कर की दौड़ में आकर बॉलीवुड में अपनी जगह तो बना ली मगर बीहड़ों में रहने वाले सुक्कू नेताम जैसे कलाकर आज भी दो वक्त की रोटी के लिए भटक रहे है।

सुक्कू को हल्बी व गोड़ी बोली की अच्छी समझ है, साथ ही वह इस बोली के कई लोकगीत भी गाता है। वह ग्रामीण इलाके का होने के बाद भी उसे किसी बात की कोई झिझक नही हैं। सूक्कु अपने बारे में बताते हुए कहता है कि उसके घर की माली हालत सुधर जाए तो वह आगे और पढाई करेगा और सरकारी नौकरी करेगा।

फिल्म न्यूटन में काम करने के दौरान उसे मिले मान-सम्मान व मानदेय से वह काफी खुश था। उसकी यह खुशी ज्यादा दिन तक नहीं रही और उसे आज एक मजदूर बनना पड़ा। उसकी चाह है इस तरह की कोई फिल्म फिर से बस्तर में बनती है और उसे काम करने का मौका मिले तो वह इसमें अपनी भूमिका निभाएगा।

Read more: छत्तीसगढ़ में बिना स्पीड गवर्नर वाले वाहनों का फिटनेस प्रमाण पत्र होगा निरस्त

इस पूरे मामले की जानकारी जब महिला बाल विकास अधिकारी को लगी तो उन्होंने कहा कहा कि सुक्कू के लिये जो भी बेहतर मदद शासन से हो सके हम दिलाएंगे। इस बारे में बस्तर के वरिष्ठ कलाकार खेम वैष्णव ने कहा कि सुक्कू और हमारे लिए एक बहुत ही दुर्भाग्य की बात है कि बाल कलाकार आज होटल में पकौड़ा बेच रहा है।

 

INH News


Title For Web: Watch: Film Newton's child artist forced to sell pakodas in Naxal area
Latest News INH News Chhattisgarh News Hindi News News in Hindi Latest News Kondagaon Watch Video Film Newton Newton child artist pakodas Naxal area Bastar Khem Vaishnav
Trending
1/50

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर