Breaking News
  • मुंगेली : जंगल से भटककर आए हिरण की मौत, 15 दिन के भीतर हिरण मौत का दूसरा मामला, शव को वन विभाग ने लिया कब्जे में, जरहागांव थाना क्षेत्र का मामला।
  • कोरिया : दिव्यांग कर्मचारी ने अपने अधिकारी पर लगाया प्रताड़ना का आरोप, जल संसाधन संभाग बैंकुठपुर के कार्यपालन अभियंता पर आरोप, पुलिस ने की जांच की बात, बैंकुठपुर कोतवाली थाना क्षेत्र का मामला।
  • पेंड्रा : लावारिस हालत में सड़क किनारे खड़ी सफारी वाहन से 87 पाव शराब जब्त, मध्यप्रदेश से अंग्रेजी शराब छत्तीसगढ़ में खपाने वाले तस्करों की गाड़ी होने की आशंका, गौरेला के खैरझिठी गांव की घटना।
  • बिलासपुर : अंग्रेजी शराब की अवैध तस्करी करते बिलासपुर पुलिस ने अंतर्राज्यीय गिरोह के एक आरोपी को किया गिरफ्तार,  मप्र के अनूपपुर जिले के जैतहरी निवासी आरोपी शिवकुमार 80 बॉटल अंग्रेजी शराब, वैगनआर कार, एक एयर पिस्टल व छर्रा सहित 70 हजार नगद जब्त।
  • नई दिल्ली : फिर मुश्किल में सलमान खान, दलितों के खिलाफ टिप्‍पणी पर कोर्ट में याचिका, एफआईआर दर्ज करने की मांग।
  • मुंबई : उद्धव ठाकरे का बयान, कहा- ‘पीएनबी घोटाले की वजह से ठंडे बस्‍ते में चला गया राफेल घोटाला’।
  • सीरिया : सरकारी फौजों का दमिश्क में अब तक का सबसे बड़ा हमला, मृतकों की संख्या 300 हुई।
  • इस्लामाबाद : पाक के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने कहा- ‘मुझे जिंदगीभर के लिए सियासत से दूर करने की हो रही साजिश’

Chhattisgarh Assembly Budget Session : किसानों को मुआवजा न मिलने पर हंगामा, गर्भगृह में नारेबाजी के कारण कांग्रेस के सभी 26 विधायक निलंबित

By Sanjeet Tripathi

छत्तीसगढ़ खबर | Published On: 15 Feb, 2018 | 12:51 PM GMT 05:30+

Chhattisgarh Assembly Budget Session : किसानों को मुआवजा न मिलने पर हंगामा, गर्भगृह में नारेबाजी के कारण कांग्रेस के सभी 26 विधायक निलंबित

रायपुर : विधानसभा में आज शून्यकाल के दौरान विपक्ष ने सूखा प्रभावित किसानों को अब तक मुआवजा न मिलने का मामला उठा। ध्यानाकर्षण के जरिये कांग्रेस विधायक भूपेश बघेल, धनेंद्र साहू और सत्यनारायण शर्मा ने यह मामला उठाया।

जवाब में राजस्व मंत्री प्रेम प्रकाश पांडेय ने कहा कि जिनका 33 फीसदी से ज्यादा फसल का नुकसान हुआ है उन्हें मुआवजा दिया जा रहा है586.58 करोड़ की राशि सूखा प्रभावित जिलों को आवंटित की गई है329.84 करोड़ राशि वितरित की जा चुकी हैमनरेगा के तहत प्रयाप्त रोजगार दिया जा रहा हैप्रत्येक ग्राम पंचायत में 1 क्विंटल चावल का स्टॉक रखा गया है,जिससे भुखमरी की स्थिति नहीं हो रही है।

उन्होंने बताया कि किसी भी किसान से धमकाकर ऋण वसूली का प्रकरण सामने नहीं आया हैजहां पेयजल की समस्या होने की आशंका नहीं है वहां ग्रीष्मकालीन धान लेने की छूट दी गयी हैकिसानों में किसी भी तरह का रोष नहीं है

इस पर सत्यनारायण शर्मा ने कहा- जनवरी 2018 तक एक भी तहसील में सूखा राहत राशि का वितरण नहीं हुआमंत्री पांडेय ने कहा कि फसल कटने के बाद ही मुआवजा राहत राशि दी जाती है, इसमें नियमों का पालन हुआ है

सत्यनारायण ने कहा कि सूखे के बाद सरकार पलायन रोकने में नाकाममंत्री पांडेय ने कहा- पलायन की कहीं कोई शिकायत नहींजांजगीर के जो लोग बाहर गए वो पहले भी काम के लिए जाते रहे हैं

वहीं कांग्रेस विधायक भूपेश बघेल ने कहा कि कलेक्टर किसानों के मुआवजे के पैसे का ब्याज खा रहे हैं, अपने लैस-लिफाफा पर खर्च कर रहे हैंप्रदेश में एक भी किसान को अभी सूखा राहत की राशि नहीं मिली है

मंत्री प्रेमप्रकाश पांडेय ने कहा- ये गलत है कि एक भी किसान को मुआवजे की राशि नहीं लीरायगढ़, रायपुर और बलौदाबाजार सहित कई जिलों में राशि वितरित हुई हैकरीब 300 करोड़ की राशि वितरित हो चुकी हैअगर आंकड़े गलत हुए तो जो भी दोषी अधिकारी होंगे सभी पर कार्रवाई होगीलेकिन अगर किसानों को मिला हो तो भूपेश बघेल क्या करेंगे?

बघेल ने फिर कहा- एक भी किसान को नहीं मिला हैभूपेश बघेल ने पूछा- सूखा राहत में कितना बजट है और कितना खर्च हुआ? मंत्री प्रेम प्रकाश पांडेय ने कहा- जितनी राशि सूखे के लिए नियत है वो खर्च होती है।

राजस्व मंत्री प्रेम प्रकाश पांडेय ने कहा- 5 लाख से ज्यादा किसानों को नियम 6/4 के जरिये मुआवजा वितरित किया जा चुका हैकोंडागांव से कांग्रेस विधायक मोहन मरकाम ने कहा- कहीं 2 तो कहीं 4 किसानों को मुआवजा मिलाभूपेश बघेल ने कहा- व्यवस्था चरमरा गई है। इसके बाद विपक्ष ने सदन में नारेबाजी कीभूपेश बघेल ने कहा- मंत्री प्रेमप्रकाश पांडेय का जवाब संतोषजनक नहीं। विपक्ष ने फिर नारेबाजी की और वॉकआउट कर दिया।

मंत्री प्रेम प्रकाश पांडेय ने कहा- कांग्रेस किसानों के नाम पर सिर्फ घड़ियाली आंसू बहाती है70 सालों तक कांग्रेस ने सिर्फ किसानों के नाम पर राजनीति करने का काम किया हैवॉकआउट से लौटे विपक्ष के विधायक भूपेश बघेल ने मंत्री प्रेम प्रकाश की टिप्पणी पर की आपत्ति। 

इसके बाद पूरा विपक्ष गर्भगृह में पहुंच गया। बेल में घुसकर विपक्ष की जोरदार नारेबाजी। सदन में सत्ता पक्ष की तरफ से जवाबी नारेबाजीविपक्ष ने मुआवजा राशि देना होगा के नारे लगाए तो सत्ता पक्ष के विधायकों ने नारेबाजी में कहा- सदन में राजनीति बंद करो

बेल में घुसने और नारेबाजी की वजह से भूपेश बघेल, नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव सहित विपक्ष के 26 विधायक निलंबित कर दिए गए। निलंबन के बाद विपक्ष के विधायक परिसर में स्थित गांधी प्रतिमा के पास जाकर धरने के पर बैठ गए। संसदीय कार्य मंत्री अजय चंद्राकर विपक्षी सदस्यों को मनाने पहुंचे। उनके आग्रह पर विपक्षी सदस्य सदन में वापस लौटे।

INH News


Title For Web: Chhattisgarh Assembly Budget Session: issue of not getting compensation for drought affected farmers raise in House
Latest News INH News Chhattisgarh News Hindi News News in Hindi Local News Chhattisgarh Assembly Budget Session Chhattisgarh Assembly cg budget reactions 2018 cg budget analyisis 2018 cg budget highlights 2018 cg budget students 2018 cg budget womens 2018 cg budget berozgar 2018 cg budget farmers 2018 cg budget details 2018 cg budget youth 2018 cg budget health 2018 cg budget industries 2018 chhattisgarh budget reactions 2018 chhattisgarh budget analyisis 2018 chhattisgarh budget highlights 2018 chhattisgarh budget students 2018 chhattisgarh budget womens 2018 chhattisgarh budget berozgar 2018 chhattisgarh budget farmers 2018 chhattisgarh budget details 2018 chhattisgarh budget youth 2018 chhattisgarh budget health 2018 chhattisgarh budget industries 2018 budget 2018
Trending
1/50

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर