ब्रेकिंग न्यूज़
  • On This Day: आज ही के दिन अनिल कुंबले ने रचा था इतिहास, बनाए ये बड़े
  • सपा के खिलाफ बीजेपी ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया, पार्टी का पंजीकरण रद्द करने की मांग
  • जल्द ही भारत में तैयार होगी ओमिक्रॉन वैक्सीन, ये कंपनी कर रही तेजी से काम
  • Ashes 2022: ऑस्ट्रेलिया ने जमाया एशेज सीरीज पर कब्जा, इंग्लैंड को दी 146 रनों से शिकस्त
  • उत्तराखंड के कैबिनेट मंत्री हरक सिंह भाजपा से निष्कासित
  • Twin Tower : नोएडा में ट्विन टावर को मुंबई की कंपनी गिराएगी
  • आज वर्ल्ड इकोनोमिक फोरम को PM Modi करेंगे संबोधित, जानें कौन-कौन से देश लेंगे हिस्सा
  • पिछले 24 घंटे में 2 लाख 58 हजार कोरोना के नए मामले, देशभर में सक्रिय मरीज 16 लाख तो 385 की मौत

खेल

  • टी20, ODI के बाद रोहित शर्मा को टेस्ट क्रिकेट की कमान! BCCI जल्द कर सकता है ऐलान

    टी20, ODI के बाद रोहित शर्मा को टेस्ट क्रिकेट की कमान! BCCI जल्द कर सकता है ऐलान

    खेल। रोहित शर्मा (Rohit Sharma) को पहले ही टी20 (T20) और वनडे भारतीय टीम (ODI Indian team) का कप्तान बनाया जा चुका है। अब ऐसा माना जा रहा है कि उन्हें भारतीय टेस्ट टीम (Indian Test team) का भी कप्तान बनाया जा सकता है। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज (Test series) में मिली हार के बाद विराट कोहली (Virat Kohli) ने टेस्ट कप्तानी से इस्तीफा दे दिया। बीसीसीआई (BCCI) इसकी आधिकारिक घोषणा दक्षिण अफ्रीका (South Africa) के खिलाफ वनडे सीरीज समाप्त होने के बाद करेगा।

    रोहित शर्मा अगले टेस्ट कप्तान!

    दरअसल एक मीडिया चैनल से बीसीसीआई के एक सूत्र ने कहा कि इसमें कोई भी शक नहीं है कि रोहित शर्मा को ही भारतीय टेस्ट टीम का नया टेस्ट कप्तान बनाया जाएगा। रोहित को अफ्रीका दौरे से पहले टेस्ट टीम का उप कप्तान भी बनाया गया था, तो उनका कप्तान बनना तय है। यह घोषणा जल्द ही की जाएगी लेकिन रोहित पर बहुत ज्यादा वर्कलोड होगा पर उनको खुद को बहुत ज्यादा फिट रखना होगा। मुझे लगता है कि चयनकर्ताओं ने उनसे बात तो जरूर की होगी। उन्हें अपनी फिटनेस पर ज्यादा मेहनत करनी होगी।

    वहीं बीसीसीआई केएल राहुल और ऋषभ पंत को भविष्य के लिए कप्तान के तौर पर तैयार करना चाहता है। अभी इसको लेकर कोई फैसला नहीं लिया गया कि इन दोनों में से किसे भारतीय टेस्ट टीम का उप कप्तान बनाया जा सकता है। बीसीसीआई अधिकारी ने आगे कहा, जो टीम का उप कप्तान होगा, वह भारतीय टीम का फ्यूचर लीडर भी हो सकता है, केएल राहुल, ऋषभ पंत और जसप्रीत बुमराह सभी फ्यूचर लीडर्स में से एक हैं।

    और भी...

  • Virat Kohli को लेकर इस पाक खिलाड़ी ने किया ट्वीट, लिखा-'भाई मेरे लिए आप ही सच्चे लीडर हो'

    Virat Kohli को लेकर इस पाक खिलाड़ी ने किया ट्वीट, लिखा-'भाई मेरे लिए आप ही सच्चे लीडर हो'

    खेल। विराट कोहली (Virat Kohli) ने भारतीय टेस्ट टीम (Indian Test team) की कप्तानी से इस्तीफा दे दिया है। उनके इस फैसले ने सभी को हैरान कर दिया है। साउथ अफ्रीका (South Africa) में टेस्ट सीरीज (Test series) हारने के तुरंत बाद विराट कोहली ने कप्तानी छोड़ने की जानकारी ट्विटर (Twitter) पर दी। भारत के अलावा अन्य देशों के खिलाड़ी भी विराट को लेकर हैरान हैं। इसी बीच पाक पूर्व क्रिकेटर मोहम्मद आमिर (Mohammad Amir) ने भी विराट को लेकर एक ट्वीट किया है।
     

    मोहम्मद आमिर (Mohammad Amir) ने ट्वीट करते हुए लिखा कि, विराट कोहली भाई, मेरे लिए आप ही सच्चे लीडर हो। क्योंकि आप युवा खिलाड़ियों को प्रेरणा देते हो। मैदान पर और मैदान के बाहर आप ऐसे ही हमेशा रॉक करते रहें। बता दें कि मोहम्मद आमिर के अलावा अन्य कई विदेशी खिलाड़ियों ने विराट के शानदार क्रिकेट करियर के लिए बधाई दी। मोहम्मद आमिर अब अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट नहीं खेलते, लेकिन वह लगातार दुनिया की अलग-अलग फ्रेंचाइजी लीग में खेल रहे हैं। जल्द ही मोहम्मद आमिर पाकिस्तान सुपर लीग में भी आप सभी को खेलते नजर आने वाले हैं। बता दें कि, आमिर को कोहली की ओर से एक बल्ला भी गिफ्ट में मिला था। साल 2017 की चैंपियंस ट्रॉफी के दौरान विराट कोहली ने मोहम्मद आमिर को अपना बैट तोहफे में दिया था, जिसकी तस्वीर सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुई थी।

    साउथ अफ्रीका में गंवाई टेस्ट सीरीज

    साउथ अफ्रीका हुए 3 मुकाबलों की टेस्ट सीरीज में भारत ने 1-2 से सीरीज गंवा दी, विराट कोहली ने टी-20 की कप्तानी पहले ही छोड़ दी थी। जिसके बाद बीसीसीआई ने कोहली को वनडे की कप्तानी से भी हटा दिया। ऐसे में विराट अब सिर्फ टेस्ट टीम के कप्तान बचे थे, लेकिन अब उन्होंने टेस्ट की कप्तानी भी छोड़ दी है।

    और भी...

  • रजत पदक विजेता मीराबाई चानू बनीं पुलिस अधिकारी, सोशल मीडिया पर साझा की तस्वीरें

    रजत पदक विजेता मीराबाई चानू बनीं पुलिस अधिकारी, सोशल मीडिया पर साझा की तस्वीरें

    खेल। 2020 टोक्यो ओलंपिक खेलों 2020 (Tokyo Olympic Games) में भारत को वेटलिफ्टिंग में रजत पदक विजेता मीराबाई चानू (Mirabai Chanu) मणिपुर पुलिस (Manipur Police) में एएसपी (ASP) बन गई हैं। मणिपुर सरकार की ओर से आयोजित किए गए समारोह में मीराबाई चानू को एएसपी के पद पर तैनाती दी गई है। इसी बीच मीराबाई चानू ने सोशल मीडिया पर तस्वीरें साझा करते हुए खुशी जताई है। चानू ने ओलंपिक में रजत पदक जीतने के बाद जुलाई 2021 में ही मणिपुर सरकार ने उन्हें एएसपी के रूप में नियुक्त करने का ऐलान कर दिया था और नए साल में उन्हें इस पद के लिए नियुक्त किया जाना था। कुछ ही दिन पहले असम सरकार ने टोक्यो ओलंपिक में बॉक्सिंग कांस्य पदक विजेता लोवलिना बोर्गोहैन को डीएसपी के रूप में आधिकारिक नियुक्ति दी थी।

     

    मीराबाई चानू बनीं पुलिस अधिकारी

    मीराबाई चानू ने मणिपुर के मुख्यंत्री एन बीरेन सिंह की मौजूदगी में पुलिस की वर्दी में अपने एएसपी पद की कमान संभाली। चानू ने इस बड़ी उपलब्धि का श्रेय अपने माता-पिता को दिया। बता दें कि, 27 साल की चानू ने टोक्यो ओलंपिक में 49 किलोग्राम में शानदार प्रदर्शन किया था। वर्ल्ड चैंपियनशिप जीत चुकीं मीराबाई गोल्ड मेडल जीतने के बहुत पास थीं, लेकिन अंत उन्हें रजत पदक से संतोष करना पड़ा।

     

    कॉमनवेल्थ में जीता था रजत पदक

    मीराबाई चानू ने साल 2014 के ग्लासगो कॉमनवेल्थ खेलों में शानदार प्रदर्शन करते हुए 48 किलोग्राम कैटेगरी में रजत पदक हासिल किया था और 2018 के गोल्ड कोस्ट खेलों में अपना प्रदर्शन सुधारते हुए इसी वर्ग में गोल्ड जीता। साल 2017 की वर्ल्ड चैंपियनशिप में चानू स्वर्ण जीतने में कामयाब रहीं थीं। फिलहाल चानू का लक्ष्य 2024 पेरिस ओलंपिक के लिए क्वालीफाई कर गोल्ड पर कब्जा जमाना है।

    और भी...

  • IND vs SA: U19 World Cup में भारत का जीत के साथ आगाज, दक्षिण अफ्रीका को दी 45 रनों से मात

    IND vs SA: U19 World Cup में भारत का जीत के साथ आगाज, दक्षिण अफ्रीका को दी 45 रनों से मात

    खेल। भारतीय टीम (Indian team) ने आईसीसी अंडर 19 वर्ल्ड कप (ICC U19 World Cup 2022) में अपने पहले ही मुकाबले में दक्षिण अफ्रीका (South Africa) को 45 रनों से करारी मात दी। गयाना में खेले गए ग्रुप बी के इस मुकाबले में टीम इंडिया (Team India) ने पहले बल्लेबाजी करते हुए दक्षिण अफ्रीका के सामने 233 रनों का लक्ष्य रखा। जवाब में लक्ष्य का पीछा करने उतरी दक्षिण अफ्रीका की टीम 45.4 ओवर में 187 रनों पर ही ऑल आउट हो गई। विक्की ओस्तवाल (Vicky Ostwal) ने शानदार गेंदबाजी करते हुए 28 रन खर्च कर 5 विकेट लिए और इस प्रदर्शन के लिए उन्हें 'मैन ऑफ द मैच' भी चुना गया।

    भारत ने पहले की थी बल्लेबाजी

    टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत ज्यादा अच्छी नहीं रही और 11 के स्कोर तक दोनों ओपनर आउट हो गए। भारतीय कप्तान यश ढुल ने शेख रशीद 31 के साथ तीसरे विकेट के लिए 71, निशांत संधू (27) के साथ चौथे विकेट के लिए 43 और कौशल तांबे 35 के साथ छठे विकेट के लिए 36 रनों की साझेदारी करके टीम को 200 रनों के करीब पहुंचाया। यश ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए 82 रनों की पारी खेली और उसी पारी की बदौलत भारतीय टीम ने 233 रनों का लक्ष्य अफ्रीका के सामने रखा। अगर भारत के प्रदर्शन की बात करें तो पूरी टीम 46.5 ओवर में ऑल आउट हो गई थी। दक्षिण अफ्रीका के मैथ्यू बोस्ट ने सबसे ज्यादा 3 विकेट चटकाए।

    मुकाबले का हाल

    लक्ष्य का पीछा करते उतरी दक्षिण अफ्रीका को भी एक तरफ से नियमित अंतराल पर झटके लगते रहे, लेकिन डेवाल्ड ब्रेविस ने 65 रनों की शानदार पारी खेलकर टीम को जीत की उम्मीदों को कायम रखा। कप्तान जॉर्ज वैन हीरडन ने 36 रन बनाए। हालांकि 138 के स्कोर पर ब्रेविस के आउट होने के बाद दक्षिण अफ्रीका की पारी लड़खड़ा सी गई और सिर्फ 49 रनों के अंदर टीम ने अपने 7 अहम बल्लेबाजों के विकेट गंवा दिए। विक्की ओस्तवाल और राज अंगद बावा (4/47) ने घातक गेंदबाजी करते हुए टीम को शानदार जीत दिलवाई।

    बता दें कि, अंडर 19 विश्व कप में भारतीय टी का अगला मुकाबला 19 जनवरी को आयरलैंड के खिलाफ होगा, वहीं दक्षिण अफ्रीका का सामना 18 जनवरी को युगांडा टीम के खिलाफ होगा।

    और भी...

  • जानिए 2006 अंडर-19 विश्व कप में धमाल मचाने वाले टॉप 5 भारतीय क्रिकेटर

    जानिए 2006 अंडर-19 विश्व कप में धमाल मचाने वाले टॉप 5 भारतीय क्रिकेटर

    खेल। साल 2006 अंडर-19 वर्ल्ड कप (Under-19 World Cup) में टीम इंडिया में कई ऐसे युवा खिलाड़ी थे, जो आज दिग्गज खिलाड़ियों में शुमार किए जाते हैं और उसमें से एक नाम रोहित शर्मा (Rohit Sharma) का भी है। भारतीय मौजूदा कप्तान रोहित शर्मा को उनके करियर की शुरुआत से ही शानदार खिलाड़ी माना गया है। इसी शानदार प्रदर्शन के चलते रोहित को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भारतीय टीम में जगह दी गई।

    बता दें कि, साल 2006 अंडर-19 विश्व कप के भारतीय स्क्वॉड में रोहित के अलावा और भी कई ऐसे खिलाड़ी शामिल थे जो बाद में टीम इंडिया का हिस्सा भी बने। आए जानें कौन हैं वो खिलाड़ी।

    1. चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara)

    भारतीय टेस्ट टीम के अनुभवी बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा भी 2006 अंडर-19 विश्व में रोहित शर्मा के साथ टीम इंडिया का हिस्सा थे। पुजारा उस टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी भी थे। उन्होंने 6 मुकाबलों में 116.33 की शानदार औसत के साथ 349 रन जड़े। भारत को फाइनल तक पहुंचने में पुजारा का अहम योगदान रहा था।

    2. रविंद्र जडेजा (Ravindra Jadeja)

    क्रिकेट करियर में दो अंडर-19 वर्ल्ड कप खेलने वाले रविंद्र जडेजा साल 2008 के अलावा 2006 अंडर-19 विश्व कप में भी भारतीय टीम का हिस्सा थे। हालांकि जडेजा को अपने पहले अंडर-19 विश्व कप में ज्यादा सफलता मिली। जडेजा ने 4 मुकाबलों में बल्लेबाजी करते हुए 34 रन गेंदबाजी के दौरान चार विकेट लिए थे। उस दौरान रोहित शर्मा भी टीम का हिस्सा थे।

    3. पीयूष चावला (Piyush Chawla)

    2006 अंडर-19 विश्व कप में भारत के लिए सबसे ज्यादा विकेट चटकाने वाले गेंदबाज पीयूष चावला थे। चावला को उनके करियर के शुरुआत में भविष्य का सितारा माना जाता था और उन्हें अनिल कुंबले के संन्यास के बाद उनकी रिप्लेसमेंट के तौर पर देखा जा रहा था।

    4. इशांत शर्मा (Ishant Sharma)

    भारत के लिए सभी फोर्मट्स में खेल चुके और मौजूदा समय में टेस्ट तेज गेंदबाजी के लीडर इशांत शर्मा भी 2006 अंडर-19 विश्व कप में भारतीय स्क्वॉड का हिस्सा रह चुके हैं। हालांकि इस लंबे कद के तेज गेंदबाज को उस टूर्नामेंट में एक भी मुकाबले में अपनी प्रतिभा दिखाने का मौका नहीं दिया गया।

    5. शाहबाज नदीम (Shahbaz Nadeem)

    बाएं हाथ के स्पिन गेंदबाज शाहबाज नदीम भी 2006 में रोहित शर्मा के साथ अंडर-19 विश्व कप का हिस्सा रहे थे। हालांकि नदीम को उस टूर्नामेंट के सिर्फ एक ही मुकाबले में खिलाया गया। उस मुकाबले में नदीम ने 7 ओवर गेंदबाजी करते हुए सिर्फ एक विकेट लिया था।

    और भी...

  • IND vs SA: विराट के टेस्ट कप्तानी छोड़ने पर गांगुली ने दिया बयान, कही ये बात

    IND vs SA: विराट के टेस्ट कप्तानी छोड़ने पर गांगुली ने दिया बयान, कही ये बात

    खेल। विराट कोहली (Virat Kohli) ने वनडे (ODI) और टी20 (T20) के बाद अब भारतीय टेस्ट टीम (Indian Test team) की भी कप्तानी से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने सोशल मीडिया पर पोस्ट करते हुए इसकी जानकारी दी। विराट कोहली ने भारतीय टीम के लिए अब तक कुल 68 टेस्ट मुकाबलों में कप्तानी की है। इस दौरान टीम इंडिया ने 40 मुकाबलों में जीत दर्ज की जबकि 17 में उसे हार का मुंह देखना पड़ा। बता दें कि, भारत को हाल ही में दक्षिण अफ्रीका (South Africa) के खिलाफ टेस्ट सीरीज (Test series) में 1-2 से हार का सामना करना पड़ा।

    सौरव गांगुली का बयान 

     

    कोहली को लेकर ट्वीट के जरिए गांगुली ने लिखा- विराट की लीडरशिप में टीम इंडिया ने क्रिकेट के तीनों फोर्मट्स में शानदार प्रदर्शन किया। विराट का फैसला उनका व्यक्तिगत फैसला है और बीसीसीआई इसका तेह दिल से सम्मान करता है। वह अभी भी भारतीय टीम के अहम सदस्य हैं और हमेशा रहेंगे। टीम को नई ऊंचाइयों तक ले जाने में उनका अहम योगदान रहा है। विराट एक महान खिलाड़ी हैं। बहुत अच्छे विराट।

    ट्विटर के जरिए दी जानकारी

     

    भारतीय टीम (Indian team) के दिग्गज बल्लेबाज विराट कोहली (Virat Kohli) ने टेस्ट की कप्तानी छोड़ने की जानकारी ट्विटर (Twitter) के जरिए दी। उन्होंने ट्विटर पर एक इमोशनल लेटर लिखा है। इसमें उन्होंने बीसीसीआई और अपने फैंस को धन्यवाद कहा है। इसके साथ-साथ विराट ने अपने अब तक के करियर का भी जिक्र किया है। विराट ने लिखते हुए कहा, मैंने पिछले 7 सालों में कड़ी मेहनत के साथ भारतीय टीम को सही दिशा में ले जाने प्रयास किया। मैंने अपनी जिम्मेदारी को बहुत ही ईमानदारी के साथ निभाया है। कोहली ने बीसीसीआई को शुक्रिया कहते हुए आगे लिखा, मैं बीसीसीआई को धन्यवाद कहना चाहूंगा, उन्होंने मुझे इतने लंबे समय तक भारतीय टीम की कप्तानी करते का मौका दिया।

    विराट कोहली का टेस्ट करियर

    बता दें कि विराट भारतीय टीम के लिए अब तक 99 टेस्ट मुकाबले खेले हैं। इस दौरान उन्होंने 7962 रन भी जड़े हैं। कोहली के टेस्ट प्रदर्शन की बात करें तो उन्होंने 27 शतक और 28 अर्धशतक भी लगाए हैं। उनका टेस्ट में सबसे शानदार प्रदर्शन नाबाद रहकर 254 रन का है। उनकी कप्तानी की बात करें तो कोहली ने भारत के लिए 68 टेस्ट मुकाबलों में कप्तानी की। इस दौरान भारत का मैच विनिंग परसेंटेज 58.82 रहा है। भारतीय टीम ने कोहली की कप्तानी में 40 मुकाबले जीते हैं।

    और भी...

  • IND vs SA: इस दिग्गज ने कोहली पर साधा निशाना, कह डाली ये बात

    IND vs SA: इस दिग्गज ने कोहली पर साधा निशाना, कह डाली ये बात

    खेल। केपटाउन टेस्ट (Cape Town test) में साउथ अफ्रीका (South Africa) के खिलाफ मिली हार के बाद भारत का साउथ अफ्रीका में टेस्ट सीरीज जीतने का सपना फिर से टूट गया। भारतीय टीम (Indian team) ने इस सीरीज में 2-1 से गंवा दिया। टेस्ट सीरीज के आखिरी मुकाबले में अफ्रीकी टीम ने भारत को 7 विकेट हराकर सीरीज पर अपना कब्जा जमा लिया। इस टेस्ट मुकाबले के दौरान मैदान पर कई बवाल भी देखने को मिले। जिसमें अफ्रीकी कप्तान एल्गर (Dean Elgar) को डीआरएस (DRS) में नॉट आउट दिए जाने पर सबसे बड़ा बवाल खड़ा हुआ। कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) समेत पूरी भारतीय टीम ने इस फैसले पर नाराजगी जताई और मैदान पर ही जमकर विवाद खड़ा कर दिया। लेकिन इसी बीच एक पूर्व खिलाड़ी ने विराट के इस रिएक्शन पर उन्हें सस्पेंड और जुर्माना लगाने की बात कही है।

     

    विराट पर माइकल वॉन का हमला

    तीसरे टेस्ट के दौरान कप्तान डीन एल्गर (Dean Elgar) को नॉट आउट करार दिया गया तो भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) गुस्से से भड़क उठे और उन्होंने मैदान पर ही भड़ास निकाल दी। इसी बीच हुए इस विवाद के बाद इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन (Michael Vaughan) ने विराट पर तंज कसते हुए उन्हें क्रिकेट से सस्पेंड किए जाने की बात कही है। वॉन ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा, 'आईसीसी को इस मामले की पूरी जांच करनी चाहिए क्योंकि आप इस तरह का बवाल मैदान पर नहीं कर सकते, चाहे आप किसी के निशाने पर हों या नहीं हों। बेशक, मैदान पर ऐसे पल आते हैं जब आपको लगता है कि चीजें आपके खिलाफ हो रही हैं। लेकिन अगर आप कप्तान के तौर पर ऐसा बर्ताव करें ये ठीक नहीं है। इसके अलावा वॉन ने कहा कि कप्तान विराट को सस्पेंड करना और उन पर जुर्माना लगाया जाना चाहिए।


    गंभीर ने भी साधा निशाना

    विराट (Virat Kohli) के इस बर्ताव को लेकर पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा, 'कोहली बहुत इमैच्योर हैं। स्टंप माइक पर ऐसा कहना किसी भी भारतीय कप्तान के लिए बेहद ही खराब है। ऐसा करके आप कभी भी युवाओं के आदर्श नहीं बन सकते।

     

    और भी...

  • IND vs SA: अफ्रीकी जमीं पर फिर फ्लॉप रही Team India, जानें क्या रही वजह

    IND vs SA: अफ्रीकी जमीं पर फिर फ्लॉप रही Team India, जानें क्या रही वजह

    खेल। भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच (IND vs SA) तीन मुकाबलों की टेस्ट सीरीज के दौरान भारतीय बल्लेबाज की ओर से बेहद ही खराब प्रदर्शन देखने को मिला। यही कारण है कि भारत के हाथ से अफ्रीकी धरती पर 29 साल बाद टेस्ट सीरीज (Test Series) जीतने का मौका लगभग फिसल गया है। आपको यह जानकर हैरानी होगी कि पूरी सीरीज के दौरान भारत की तरफ से केवल 2 ही खिलाड़ियों ने शतक जड़ा। आंकड़ों में मजबूत देखा जाए तो भारतीय टीम की बल्लेबाजी अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज में बेहद ही खराब रही और पूरी टेस्ट सीरीज के दौरान भारत केवल 2 शतक और 5 अर्धशतक ही जड़ पाया।

    पहले मुकाबले में सलामी बल्लेबाजों का प्रदर्शन

    भारत और दक्षिण अफ्रीका (IND vs SA) के बीच टेस्ट सीरीज का पहला मुकाबला सेंचुरियन (Centurion) में खेला गया। मैच की पहली पारी में केएल राहुल ने 123 रनों की शानदार पारी खेली जबकि मयंक अग्रवाल ने 60 रन बनाए। मुकाबले की दूसरी पारी में किसी भी बल्लेबाज के बल्ले से अर्धशतक तक नहीं निकला। कुल मिलाकर पहले मुकाबले में भारत की तरफ से केवल एक शतक और एक ही अर्धशतक निकला। हालांकि, भारतीय गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के चलते टीम ने इस मुकाबले में जीत दर्ज की।

    दूसरे मुकाबले में भी कोई शतक नहीं

    दूसरे मुकाबले की पहली पारी में केएल राहुल ने अर्धशतक जड़ा। राहुल के अलावा बाकि सभी बल्लेबाज फ्लॉप रहे। दूसरी पारी में चेतेश्वर पुजारा 53 और अजिंक्य रहाणे 58 रन बनाकर आउट हो गए। इस मुकाबले में भारत की ओर से तीन अर्धशतक बने, लेकिन एक भी शतक किसी भी बल्लेबाज ने नहीं जड़ा। इसी के चलते टीम इंडिया को इस मुकाबले में 7 विकेट से हार मिली थी।
     

    तीसरे मुकाबले में भी खराब बल्लेबाजी

    सीरीज के अंतिम मुकाबले की पहली पारी में कप्तान कोहली ने 79 रन जड़े। उनके अलावा कोई बल्लेबाज अर्धशतक तक ना जड़ सका। दूसरी पारी में ऋषभ पंत ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए 100 रन बनाए, लेकिन बाकी सभी खिलाड़ी फ्लॉप रहे। कुल मिलाकर तीसरे मैच में भारत की तरफ से एक शतक और एक अर्धशतक ही निकला। इस अहम मुकाबले में भारतीय टीम काफी मुश्किल में है और दक्षिण अफ्रीका सीरीज पर कब्जा जमाने की होड़ में लक्ष्य का पीछा कर रही

     

    और भी...

  • IND vs SA: लंबे समय के बाद भारतीय टीम में इस खिलाड़ी की वापसी, 6 साल के करियर में बनाया सिर्फ 1 रन

    IND vs SA: लंबे समय के बाद भारतीय टीम में इस खिलाड़ी की वापसी, 6 साल के करियर में बनाया सिर्फ 1 रन

    खेल। दक्षिण अफ्रीका (South Africa) के खिलाफ आगामी वनडे सीरीज (ODI series) के लिए टीम इंडिया (Team India) में 2 बड़े बदलाव किए हैं। बीसीसीआई (BCCI) ने वाशिंगटन सुंदर (Washington Sundar) और तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज (Mohammad Siraj) की जगह जयंत यादव (Jayant Yadav) और नवदीप सैनी (Navdeep Saini) को टीम में जगह दी गई है। 3 मुकाबलों की वनडे सीरीज की शुरुआत 19 जनवरी होगी। इस सीरीज का पहला मैच दक्षिण अफ्रीका के पार्ल में खेला जाएगा।



     

     

    वाशिंगटन सुंदर कोरोना पॉजिटिव

    वाशिंगटन सुंदर (Washington Sundar) को कोरोना पॉजिटिव (Corona positive) पाए जाने के बाद उन्हें वनडे सीरीज से बाहर कर दिया गया है। वहीं, सिराज चोटिल हैं और केपटाउन में खेले जा रहे टेस्ट सीरीज के अंतिम मुकाबले में भारतीय टीम का हिस्सा नहीं है। सिराज के बैक-अप के रूप में नवदीप सैनी को वनडे टीम खेलने के लिए जगह दी है।

    6 साल बाद वनडे टीम में वापसी
    जयंत यादव दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेली जा रही टेस्ट सीरीज का हिस्सा हैं। हालांकि उन्हें इस सीरीज के एक भी मुकाबले में खिलाया नहीं गया। जयंत ने आखिरी अंतरराष्ट्रीय मुकाबला पिछले साल दिसंबर में खेला था। वहीं, उन्होंने अपना आखिरी वनडे साल 2016 में खेला था। साल 2016 में न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले गए इस वनडे मुकाबले मैच में जयंत यादव ने 8 रन देकर 1 विकेट चटकाया। इसके अलावा उन्होंने नाबाद 1 रन टीम इंडिया के लिए बनाया था। जयंत के टेस्ट करियर की बात करें तो उन्होंने 5 मुकाबले खेलकर 16 विकेट लिए हैं और बल्लेबाजी करते हुए 35.14 की औसत के साथ 246 रन भी बनाए हैं जिसमे 1 शतक और 1 अर्धशतक शामिल है।

    भारतीय वनडे टीम

    केएल राहुल (कप्तान), शिखर धवन, ऋतुराज गायकवाड़, विराट कोहली, सूर्यकुमार यादव, श्रेयस अय्यर, वेंकटेश अय्यर, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), ईशान किशन (विकेटकीपर), युजवेंद्र चहल, आर अश्विन, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह (उप कप्तान), दीपक चहर, प्रसिद्ध कृष्णा, शार्दुल ठाकुर, मोहम्मद सिराज, जयंत यादव और नवदीप सैनी.

    ODI सीरीज का शेड्यूल

    1. पहला वनडे 19 जनवरी पार्ल में दोपहर 2 बजे

    2. दूसरा वनडे 21 जनवरी पार्ल में दोपहर 2 बजे

    3. तीसरा वनडे 23 जनवरी केपटाउन में दोपहर 2 बजे

     

    और भी...

  • Ind vs SA: दक्षिण अफ्रीकी के खिलाफ 5 विकेट लेने के बाद बुमराह ने दिया बयान, कही ये बात

    Ind vs SA: दक्षिण अफ्रीकी के खिलाफ 5 विकेट लेने के बाद बुमराह ने दिया बयान, कही ये बात

    खेल। भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) ने दक्षिण अफ्रीका (South Africa) के खिलाफ टेस्ट सीरीज (Test Series) के अंतिम मुकाबले की पहली पारी में शानदार गेंदबाजी की। बुमराह ने आखिरी मुकाबले में 42 रन देकर 5 बल्लेबाजों को अपना शिकार बनाया। उन्होंने अपने टेस्ट करियर (Test Career) में 5 विकेट लेने वाला कारनामा 7वीं बार किया। इस दौरान उन्होंने मार्को जानसेन को भी आउट किया।
     

    दूसरे टेस्ट में हुई बहस

    बता दें कि बुमराह और जानसेन के बीच सीरीज के दूसरे टेस्ट में बहस हुई थी। ये बहस उस दौरान हुई जब जानसेन ने बुमराह पर कई शार्ट गेंदें फेंकी थीं। इसी बीच तीसरे टेस्ट में बुमराह ने उसका बदला लेते हुए जानसेन को महज 7 रन पर आउट कर दिया। इस विकेट के बाद बुमराह ने जानसेन को गुस्से में देखा लेकिन दोनों के बीच कोई बहस नहीं हुई। दूसरे दिन का खेल खत्म होने के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में बुमराह से इसपर सवाल करते हुए कहा कि इस टेस्ट में जानसेन से उनकी किसी भी तरह की कोई बात नहीं हुई। दोनों ही टीमों की ओर से अब तक शानदार प्रदर्शन देखने को मिला है।

    बुमराह ने आगे कहा, 'मुझे बिलकुल याद नहीं कि मैंने उनसे एक बार भी इस मुकाबले में बात की। पिछले खेल में जो कुछ भी हुआ था वह वहीं खत्म हो गया और अब हम जीवन में आगे बढ़ गए हैं। इस मुकाबले में मुझे उसके साथ बात या आंख से संपर्क करने तक का कुछ भी याद नहीं। लेकिन हां, हम इस पर ध्यान दे रहे हैं कि हमारी टीम को क्या करना है और क्या नहीं।

    बुमराह का प्रदर्शन

    बुमराह ने शानदार गेंदबाजी करते हुए ना केवल जानसेन आउट किया बल्कि दक्षिण अफ्रीका के चार और विकेट भी लिए। उनके 5-42 के धमाकेदार प्रदर्शन की बदौलत भारत ने मेजबान टीम को 210 रनों पर ऑल आउट कर दिया। भारत ने पहली पारी में 223 रन बनाए और उसने 13 रनों की लीड बना ली। दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक टीम इंडिया ने 2 विकेट के नुकसान पर 57 रन बना लिए है और कप्तान विराट कोहली और चेतेश्वर पुजारा नाबाद हैं

    और भी...

  • IPL 2022: श्रेयस अय्यर किस टीम का थामेंगे दामन? सभी फ्रेंचाइजियों में मची होड़

    IPL 2022: श्रेयस अय्यर किस टीम का थामेंगे दामन? सभी फ्रेंचाइजियों में मची होड़

    खेल। आईपीएल 2022 का मेगा ऑक्शन (IPL 2022 Mega Auction)) फरवरी के दूसरे हफ्ते में हो सकता है। लेकिन इससे पहले एक खिलाड़ी ऐसा है जिसे लेकर सभी फ्रेंचाइजियों में खरीदने की होड़ मच गई है। दरअसल हाल ही में टेस्ट क्रिकेट में ड्रीम डेब्यू करने वाले भारतीय सलामी बल्लेबाज श्रेयस अय्यर (Shreyas Iyer) मौजूदा समय में सभी टीमों को एक बेहतर विकल्प के तौर पर नजर आ रहे हैं। सभी फ्रेंचाइजियां चाहती हैं कि वह उनकी टीम में शामिल हों।

    2018 में मिली थी दिल्ली कैपिटल्स की कप्तानी

    वहीं 2018 में दिल्ली डेयरडेविल्स की कप्तानीमिलने के बाद श्रेयस अय्यर ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए टीम को प्लेऑफ तक पहुंचाया था। लेकिन इंग्लैंड के खिलाफ पिछले साल घेरलू सीरीज के दौरान वो चोटिल हो गए और फिर भारतीय टीम से बाहर हो गए। साथ ही उन्हें आईपीएल के दूसरे हाफ में कुछ मैचों से बाहर रहना पड़ा। हालांकि, सर्जरी सफल होने के बाद उन्होंने टीम में वापसी तो की लेकिन महज टीम के खिलाड़ी के रूप में। उनके चोटिल होने के बाद दिल्ली कैपिटल्स ने ऋषभ पंत को टीम की कमान सौंपी।

     


    दिल्ली कैपिटल्स ने अय्यर को किया था रिलीज

    वहीं दिल्ली कैपटिल्स की टीम ने उन्हें रिलीज कर दिया। जिसके बाद से कुछ फ्रेंचाइजी अय्यर में अपना कप्तान तलाश रही हैं। बता दें कि रिटेंशन लिस्ट आने के पहले अय्यर ने दिल्ली से अपनी कप्तानी वापस मांगी थी लेकिन टीम पंत को ही बतौर कप्तान रखना चाहती थीं। जिस कारण अय्यर को रिलीज कर दिया गया। अय्यर ने बतौर कप्तान 41 मुकाबले खेले हैं जिसमें दिल्ली को उन्होंने 21 में जीत दिलाई थी। वहीं 18 में टीम को हार का सामना करना पड़ा।

    केकेआर बतौर कप्तान टीम में करना चाहता है शामिल

    साथ ही कहा जा रहा है कि अय्यर आईपीएल 2022 में नई टीम के रूप में शामिल हुई अहमदाबाद के साथ बतौर कप्तान नजर आ सकते हैं। लेकिन वहीं कयास लगाए जा रहे हैं कि शाहरुख खान की टीम कोलकाता नाइट राइडर्स उन्हें बतौर कप्तान अपनी टीम में शामिल कर सकती है। वहीं पिछले साल ही केकेआर ने इयोन मॉर्गन को रिलीज कर दिया था।

    कई फ्रेंचाइजियों में मची होड़

    हालांकि, केकेआर के अलावा मुंबई इंडियंस और सीएसके भी अय्यर को अपनी टीम में शामिल करने का मन बना रहीं हैं। जहां मुंबई इंडियंस अय्यर को बतौर टॉप ऑर्डर बल्लेबाज अपनी ओर करना चाहेगी तो वहीं दूसरी तरफ चेन्नई सुपर किंग्स उन्हें धोनी के बाद कप्तान के रूप में विकल्प देख रही है।

     

    और भी...

  • IND vs SA: तीसरे टेस्ट से पहले विराट कोहली ने का बड़ा बयान, दिया फिटनेस अपडेट

    IND vs SA: तीसरे टेस्ट से पहले विराट कोहली ने का बड़ा बयान, दिया फिटनेस अपडेट

    खेल। भारत और दक्षिण अफ्रीका (IND vs SA) के बीच तीन मुकाबलों की सीरीज का अंतिम और निर्णायक मुकाबला 11 जनवरी से केप टाउन में खेला जाएगा है। मुकाबले से ठीक एक दिन पहले भारतीय टेस्ट कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने अपना और मोहम्मद सिराज (Mohammad Siraj) का फिटनेस अपडेट दिया है।रन मशीन कोहली ने कहा कि वह टेस्ट सीरीज के अंतिम मुकाबले में खेलने के लिए पूरी तरह फिट हो गए हैं, जबकि सिराज अभी पूरी तरह ठीक नहीं हैं। बता दें कि, विराट जोहानिसबर्ग टेस्ट (Johannesburg Test) में पीठ में जकड़न की वजह दूसरे मुकाबले ने बाहर थे। उस दौरान टीम की कमान केएल राहुल (KL Rahul) को सौंपी गई जबकि उप कप्तान जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) को बनाया गया।

     

    <

     

     

    विराट ने कहा, 'जब आप कोई टेस्ट मुकाबला फिटनेस की वजह से नहीं खेल पाते हैं, तो आप खुद को दोषी मानते हैं और सोचते हैं कि मैं कैसे चोटिल हो सकता हूं। हम इस बात को हल्के में लेते हैं कि एक खिलाड़ी सभी फॉर्मेट के मुकाबले खेल रहा है और इस तरह की चोट से समझ आता है कि हम सब इंसान ही हैं।' आगे विराट ने कहा, मैं पूरी तरह से ठीक हूं जबकि सिराज फिट नहीं हैं। सिराज जोहानिसबर्ग टेस्ट के दौरान चोटिल हुए थे। उनकी जगह टीम में इशांत शर्मा या उमेश यादव को खेलने का मौका दिया जाएगा।

    हनुमा विहारी का कट सकता है पत्ता

    विराट कोहली के तीसरे मुकाबले में वापसी के बाद हनुमा विहारी शायद ही खेलें। बता दें कि, हनुमा जोहानिसबर्ग टेस्ट में भारतीय प्लेइंग XI का हिस्सा थे। विहारी ने पहली पारी में 20 और दूसरी पारी में नाबाद रहकर 40 रन बनाए जबकि पुजारा ने दूसरी पारी में 53 और रहाणे ने 58 रनों की पारी खेली थी।

     

    और भी...

  • IND vs SA: तीसरे टेस्ट से बाहर हो सकते हैं Siraj, इस दिग्गज की होगी एंट्री

    IND vs SA: तीसरे टेस्ट से बाहर हो सकते हैं Siraj, इस दिग्गज की होगी एंट्री

    खेल। भारतीय टीम (Indian team) के तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज (Mohammed Siraj) की मांसपेशियों में खिंचाव के कारण दक्षिण अफ्रीका (South Africa) के खिलाफ खेले जाने वाले केपटाउन टेस्ट (Cape Town Test) में खेलना मुश्किल लग रहा है। टीम इंडिया (Team India) के हेड कोच राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) ने बताया कि अभी सिराज पूरी तरह से ठीक नहीं हुए।

    मांसपेशियों में आया था खिंचाव

    सिराज ने दूसरे मुकाबले में 'हैमस्ट्रिंग' में खिंचाव आने के कारण पूरे मुकाबले में सिर्फ 15.5 ओवर गेंदबाजी करके मैदान से लौट गए। हालांकि दूसरी पारी में उन्होंने केवल छह ओवर ही गेंदबाजी की। द्रविड़ ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा, सिराज अभी पूरी तरह से ठीक नहीं है और हम अभी उनकी फिटनेस पर पूरी तरह से ध्यान दे रहे हैं। अभी यह कहना मुश्किल है की वह जल्द ही फिट हो पाएगा या नहीं। फिजियो स्कैन होने के बाद सही जानकारी का पता चल पाएगा।

    चोटिल होने के बावजूद भी की गेंदबाजी

    हेड कोच राहुल द्रविड़ ने चोटिल होने के बावजूद भी गेंदबाजी करने के लिए सिराज की तारीफ करते हुए कहा, सिराज मुकाबले की पहली पारी में भी पूरी तरह से ठीक नहीं थे लेकिन फिर भी उन्होंने शानदार गेंदबाजी की। ऐसे में अगर सिराज तीसरे मुकाबले में नहीं खेलते हैं तो उनकी जगह प्लेइंग इलेवन में उमेश यादव या इशांत शर्मा में किसी एक को खेलने का मौका दिया जाएगा। बता दें कि, हनुमा विहारी भी दूसरे मुकाबले के दौरान चोटिल हो गए थे। द्रविड़ ने विहारी की चोट के बारे में बताते हुए कहा कि, हनुमा विहारी की चोट की बात करें तो मैं उनकी चोट के बारे में ज्यादा बताने की स्थिति में नहीं हूं, क्योंकि मेरी फिजियो से इस बारे में अच्छी तरह से अभी बात नहीं हुई।

     

    और भी...

  • IND vs SA: केपटाउन टेस्ट में विराट कोहली की वापसी की उम्मीदें, जानें कोच द्रविड़ ने क्या कहा?

    IND vs SA: केपटाउन टेस्ट में विराट कोहली की वापसी की उम्मीदें, जानें कोच द्रविड़ ने क्या कहा?

    खेल। जोहान्सबर्ग (Johannesburg) में खेले गए दूसरे टेस्ट में साउथ अफ्रीका (South Africa) ने भारत को 7 विकेट से मात दी। इस टेस्ट में विराट कोहली (Virat kohli) की बजाए केएल राहुल (KL Rahul) ने टीम की कमान संभाली। विराट कोहली पीठ में दर्द के कारण मैदान से बाहर हैं। वहीं आखिरी टेस्ट सीरीज अब 11 जनवरी से केपटाउन में खेली जाएगी। आखिरी मुकाबले में विराट कोहली टीम की कमान संभालेंगे या नहीं इस पर कोच राहुल द्रविड़ और कप्तान केएल राहुल ने अपडेट दिया है।

     

     

    दरअसल गुरुवार को मुकाबले के बाद केएल राहुल ने कहा कि विराट कोहली ने नेट्स पर प्रैक्टिस करनी शुरु कर दी है। जिसके बाद उम्मीद लगाई जा रही है कि वो अफ्रीकी टीम के खिलाफ आखिरी टेस्ट के लिए ठीक हो सकते हैं। वहीं राहुल ने कहा कि कोहली पहले से अच्छा महसूस कर रहे हैं, मुझे लगता है कि उन्हें ठीक होना चाहिए। कप्तान के साथ ही कोच राहुल द्रविड़ ने भी कोहली की फिटनेस पर अपडेट देते हुए कहा कि वह नेट्स पर अभ्यास कर रहे हैं। कोच राहुल ने तेज गेंदबाज सिराज की चोट पर भी बात की। उन्होंने कहा कि सिराज बेहतर महसूस कर रहे हैं। कुछ दिनों के विश्राम से उसे मदद मिल सकती है। हमारे पास उपयोगी गेंदबाज है और ईशांत शर्मा और उमेश यादव इंतजार कर रहे हैं।

     

    और भी...

  • Beijing Winter Olympics 2022: शीतकालीन ओलंपिक में भारत का इतिहास, अभी भी तय करना है लंबा सफर

    Beijing Winter Olympics 2022: शीतकालीन ओलंपिक में भारत का इतिहास, अभी भी तय करना है लंबा सफर

    खेल। अगले महीने फरवरी से चीन के बीजिंग शहर में शीतकालीन ओलंपिक (Beijing Winter Olympics 2022) खेलों का आयोजन होने जा रहा है। इसमें कई देश प्रतिभाग करेंगे, इनमें एक भारत भी है। ग्रीष्मकालीन खेलों के बाद अब भारत भी शीतकालीन ओलंपिक खेलों में अपना भविष्य तलाश रहा है।

    शीतकालीन खेलों में भारत का इतिहास

    शीतकालीन खेलों में भारत का इतिहास कुछ खास नहीं है और ना ही बड़ा है। लेकिन जहां भारत ने ग्रीष्मकालीन खेलों में 1900 में भाग लिया वहीं शीतकालीन खेलों में भाग लेने के लिए उसे 1964 तक का लंबा इंतजार करना पड़ा।

    दरअसल ऑस्ट्रिया में आयोजित शीतकालीन खेलों में भारत की ओर से जेरेमी बुजाकोवास्की (Jeremy Bujakowski) ने अल्पाइन स्कीइंग (Alpine skiing) स्पर्धा में भाग लिया था लेकिन उनके लिए ये खेल खास नहीं रहे।

    दरअसल शीतकालीन ओलंपिक खेलों में भाग लेने के लिए भारत के पास ना पर्याप्त व्यवस्था थी और ना ही प्रोत्साहन, जिस कारण वो शीतकालीन ओलंपिक1964 के बाद से कभी उठ ही नहीं पाया। साथ ही भारत में शीतकालीन खेल और देशों के मुकाबले इतने लोकप्रिया नहीं हुए, इसलिए ग्रीष्मकालीन खेलों की तुलना में शीतकालीन खेलों को उतना महत्व नहीं मिल सका।

    ओलंपिक में भारतीय एथलीट्स का कमाल

    टोक्यो ओलंपिक 2020 में भारत ने जिस तरह का प्रदर्शन किया उससे उसके खिलाड़ियों की पूरे देश में काफी तारीफ हुई, पूरे देश ने खिलाड़ियों की सराहना की। लेकिन शीतकालीन खेलों की बात करें तो महज एक ही खिलाड़ी हैं जिन्होंने लगातार अपने देश का नाम रोशन किया।

    ल्यूज खिलाड़ी शिवा केशवन

    वो खिलाड़ी और कोई नहीं बल्कि हिमाचल प्रदेश के मनाली में जन्में शिवा केशवन (Shiva Keshavan) हैं। जिन्होंने शीतकालीन ओलंपिक इतिहास में भारत का सबसे ज्यादा 6 बार प्रतिनिधित्व किया। शिवा ल्यूज खिलाड़ी हैं, जिसका प्रयास उन्होंने बहुत ही कम उम्र में की थी। वहीं 16 साल की कम उम्र में उन्होंने अपनी जिंदगी के पहले नागानो शीतकालीन ओलंपिक खेलों 1998 में भाग लिया। जिसके बाद उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कई पदक भी अपने नाम किए। इस दौरान शिवा ने 1998, 2002, 2006, 2014 और 2018 शीतकालीन ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व किया। बदकिस्मती से शिवा भारत के लिए कोई ओलंपिक पदक नहीं जीत पाए।

    आरिफ खान ने रचा इतिहास

    हालांकि, ल्यूज खिलाड़ी शिवा ने इस बार बीजिंग 2022 के खेलों में खेलने से मना कर दिया है। फिलहाल अगले महीने शीतकालीन खेलों के लिए जम्मू-कश्मीर के अल्पाइन स्कीइर आरिफ खान ने भारत की तरफ से क्वालीफाई किया है। वह बीजिंग शीतकालीन ओलंपिक के दो अलग-अलग स्पर्धाओं के लिए क्वालिफाई करने वाले पहले भारतीय एथलीट बन गए हैं।

    और भी...