ब्रेकिंग न्यूज़
  • इस गांव पर रोज रात धावा बोलता है लुटेरों का गिरोह: जिसके घर से खाने-पीने की खुशबू मिली, उसकी आई शामत
  • 6 घंटे के लिए शुरू हुआ किसानों का रेल रोको आंदोलन, लखनऊ में धारा 144 लागू, यहां दिख रहा असर
  • तीन मंत्रियों ने ली अफसरों की क्लास, डहरिया ने कहा- अस्पताल को बना रखा है मजाक
  • Delhi Fire: दिल्ली के LNJP अस्पताल में लगी आग, इमरजेंसी वार्ड से मरीजों को किया गया शिफ्ट
  • क्या पुंछ में भारतीय सेना के खिलाफ पाकिस्तान कमांडो भी आतंकवादियों का दे रहे साथ, पढ़ें ये रिपोर्ट
  • बड़ी खबर: ऐसे लगी सूरत की पैकेजिंग कंपनी में आग, 125 से ज्यादा मजदूरों का रेस्क्यू
  • क्रिकेटर युवराज सिंह को हरियाणा पुलिस ने किया गिरफ्तार, जानें पूरा मामला

देश

  • West Bengal: भाजपा युवा मोर्चा के नेता की गोली मारकर हत्या, सुवेंदु अधिकारी ने टीएमसी की करतूत बताई

    West Bengal: भाजपा युवा मोर्चा के नेता की गोली मारकर हत्या, सुवेंदु अधिकारी ने टीएमसी की करतूत बताई

    पश्चिम बंगाल (West Bengal) में हत्याओं का सिलसिला रूक नहीं रहा है। उत्तर दिनाजपुर के इटहार में हमलावरों ने भाजपा पार्टी की युवा शाखा के नेता मिथुन घोष (Mithun Ghosh) की गोली मारकर हत्या कर दी है। भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) के वरिष्ठ नेता सुवेंदु अधिकारी (Suvendu Adhikari) ने हत्या का आरोप टीएमसी (TMC) पर लगाया है।

    भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता सुवेंदु अधिकारी ने अपने ट्विटर अकाउंट से ट्वीट करते हुए लिखा कि उत्तर दिनाजपुर जिले के इटहार में हमलावरों ने भाजपा युवा मोर्चा के नेता मिथुन घोष की गोली मारकर हत्या कर दी गई है।
     

    यह तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) की करतूत है। आगे लिखा कि खून के प्यासे असामाजिक शिकारी कुत्ते, जिन्होंने अपने मालिक के आदेश पर घटना अंजाम दिया, सही वक्त आने पर उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। सुवेंदु अधिकारी ने यह भी कहा कि हम मिथुन घोष को नहीं भूलेंगे।

    और भी...

  • कोरोना के बाद हरियाणा में जहरीला हुआ डेंगू का डंक, अब तक 70 की मौत

    कोरोना के बाद हरियाणा में जहरीला हुआ डेंगू का डंक, अब तक 70 की मौत

    कोरोना का डर अभी गया भी नहीं था कि प्रदेश में डेंगू ने पांव पसार लिए हैं। मच्छरजनित धीरे-धीरे पूरे प्रदेश को चपेट में ले लिया है। डेंगू के डंक और बुखार से अब तक 70 से ज्यादा मौतों की पुष्टि हो चुकी है। इनमें जिला नूहं में 18, पलवल में कबड्डी खिलाड़ी समेत 41, महेन्द्रगढ़ में तीन के अलावा जींद, पंचकूला, रेवाड़ी, पानीपत व सोनीपत में दो-दो के अलावा सिरसा व पंचकूला में एक-एक मौत शामिल है।

    हालात ये हैं कि रफ्ता-रफ्ता राज्यभर के अस्पताल बुखार पीडितों से भर रहे हैं। हालांकि डेंगू का डंक बढते ही स्वास्थ्य अमला सक्रिय तो हुआ है, लेकिन अभी बीमारी पर नियत्रंण होता नजर नहीं आ रहा है।

    राज्य डेंगू के करीब ढ़ाई हजार रोगी मिल चुके हैं। सबसे ज्यादा खराब हालात पंचकूला की है, जहां सर्वाधिक 297 मरीजों की पुष्टि हो चुकी है। जबकि सिरसा में डेंगू मरीजों का आकंडा 200 के पार है, तो वहीं गुरुग्राम में 166 मरीज मिले हैं। ऐसे कई जिले हैं जहां 100 से ज्यादा मरीजों की पुष्टि हुई है। ऐसे में स्वास्थ्य विभाग के हाथ-पैर फूले हुए हैं। असल में सरकारी अमले के पास मच्छर से निपटने को पूरे अस्त्र-शस्त्र ही नहीं हैं। महज कुछ ही इलाकों में धुआं उडाकर मच्छर को खदेड़ने के प्रयास हो रहे हैं। इसीलिए जरूरी है कि आम आदमी इसके प्रति जागरूक हो और मच्छर को न पनपने दे। प्रदेश में कोरोना के इस भयावह दौर में डेंगू के मामलों में कई गुना वृद्धि हो चुकी है।

    प्रदेश एक सितंबर को डेंगू के महज 40 मामले थे, जो 17 अक्टूबर तक पुष्टि किये गये 2406 तक पहुंच गये हैं, हालांकि प्रदेश में डेंगू मरीजों का आंकड़ा इससे भी कहीं ज्यादा बताया जा रहा है। मसलन राज्य में कोरोना संक्रमण के दैनिक मामलों से कई गुना रोजाना डेंगू के मामले सामने आ रहे हैं।

    डेंगू के डंक ने प्रदेश के जिलों पंचकूला, सिरसा, फरीदाबाद, नूहं, गुरुग्राम, सोनीपत, महेन्द्रगढ़, कैथल, करनाल, फतेहाबाद व अंबाला में अब तक डेंगू के 100 से ज्यादा डेंगू के मामलों ने कहर बरपा रखा है। हालांकि डेंगू और बुखार के कारण अब तक हुई 70 से ज्यादा मौतों में 42 पलवल और 18 नूंह जिले में हुई हैं। इसके अलावा जींद, महेन्द्रगढ़, पंचकूला, पानीपत, सोनीपत, रेवाड़ी फरीदाबाद में भी डेंगू से मौते हो चुकी हैं। प्रदेश में डेंगू के बढ़ते प्रकोप के कारण स्वास्थ्य विभाग भी सक्रीय है, लेकिन इससे पहले कोरोना नियंत्रण करने पर फोकस के कारण स्वास्थ्य विभाग शायद वेक्टर जनित रोगों की योजना तैयार नहीं कर सका।

    हालांकि विशेषज्ञों की माने तो देरी से मानसून और जलवायु परिवर्तन भी प्रदेश में डेंगू के तेजी से पैर पसारने का बड़ा कारण हो सकता है।

    निजी अस्पतालों में भीड़

    प्रदेश के सरकारी अस्पतालों की तुलना में बुखार के कारण लोग निजी अस्पतालों की तरफ रुख कर रहे हैं, जहां हर रोज आने वाले मरीजों का का आंकड़ा चौंकाने वाला है। इसका कारण भी साफ है कि सरकारी अस्पतालों में वह सुविधा नहीं है, जो निजी अस्पतालों में मौजूद है। प्रदेश के हलकान स्वास्थ्य विभाग भी मानता है कि उसके पास मच्छर से लड़ने की प्रर्याप्त व्यवस्था नहीं है, महज फोगिंग करने और डेंगू से सावधान करने और बचाव के लिए लोगों को जागरूक करने के अलावा।

    मोबाइल टीमें सक्रिय

    स्वास्थ्य विभाग ने डेंगू के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए जहां सरकारी अस्पतालों में मरीजों को मुफ्त इलाज और सरकारी अस्पतालों में प्लेटलेट्स की मुफ्त प्रक्रिया शुरू की है। वहीं निजी अस्पतालों से प्लेटलेट्स की व्यवस्था के लिए दरें भी निर्धारित की हैं। वहीं जिलों में स्वास्थ्य विभाग की मोबाइल टीमें गठित की गई है, जो लगातार मच्छरों के प्रजनन और विकास की जांच करने के साथ मच्छरों को भगाने के मकसद नियमित फॉगिंग करा रही हैं।

    बकरी के दूध की मांग बढ़ी

    प्रदेश में डेंगू मच्छर का प्रकोप जिस प्रकार बढ़ रहा है, उसकी के साथ बकरी के दूध की मांग भी बढ़ने लगी है। जिलों से खबर आ रही है कि 50 रुपये लीटर मिलने वाला दूध अब 300 से 400 रुपये प्रति लीटर के हिसाब से मिल रहा है। एक मान्यता है कि बकरी का दूध मानव शरीर में प्लेटलेट्स बढ़ाने में फायदेमंद है, जबकि चिकित्सक इस बात को नकारते रहे हैं।

    और भी...

  • 6 घंटे के लिए शुरू हुआ किसानों का रेल रोको आंदोलन, लखनऊ में धारा 144 लागू, यहां दिख रहा असर

    6 घंटे के लिए शुरू हुआ किसानों का रेल रोको आंदोलन, लखनऊ में धारा 144 लागू, यहां दिख रहा असर

    उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri) में हुई घटना के विरोध में सोमवार को किसानों ने रेल रोको आंदोलन का ऐलान किया है। जो सुबह 10 बजे से शुरू हो गया है और 4 बजे तक जारी रहेगा। संयुक्त किसान मोर्चा (Samyukta Kisan Morcha) ने ऐलान करते हुए इस बार कहा कि ये 6 घंटे का रेल रोको आंदोलन (Rail Roko Andolan) होगा। जो देश के अलग अलग हिस्सों में रेल रोकी जाएगी। इसी बीच लखनऊन में धारा 144 को भी लागू कर दिया है। किसान मोर्चा ने कहा ये आंदोलन शांतिपूर्ण होगा और किसी भी तरह की तोड़फोड़ न की जाए। दिल्ली एनसीआर में भी इस आंदोलन का असर ट्रैफिक के माध्य से देखने को मिलेगा। किसानों ने कहा है कि संपत्ति को नुकसान नहीं पहुंचाएंगे।
     

    रेल रोको आंदोलन लाइव अपडेट

    # भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने किसान संगठनों के रेल रोको आंदोलन को लेकर कहा कि ये अलग-अलग ज़िलों में अलग-अलग जगह होगा। पूरे देश में वहां के लोगों को पता रहता है ​कि हमें कहां ट्रेन रोकनी है। भारत सरकार ने अभी हमसे कोई बात नहीं की है

    # किसान संगठन के 'रेल रोको आंदोलन' के आह्वान के बाद अमृतसर के देवी दासपुरा गांव में प्रदर्शनकारी किसान रेलवे ट्रैक पर धरने पर बैठ गए।

    # लखनऊ पुलिस ने कहा कि किसान संगठनों द्वारा आहूत रेल रोको आंदोलन में हिस्सा लेने वालों के खिलाफ पुलिस कार्रवाई करेगी। जिले में सीआरपीसी की धारा 144 लागू कर दी गई है, अगर कोई सामान्य स्थिति में खलल डालने की कोशिश करेगा तो उसे दंडित किया जाएगा।

    # किसान एकता मोर्चा ने ट्वीट कर लिखा कि लखीमपुर खीरी में हुई हिंसक घटना को भुलाया नहीं जा सकता। आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं होने पर किसानों ने आज 6 घंटे का 'रेल बंद' किया है।

    और भी...

  • Delhi Fire: दिल्ली के LNJP अस्पताल में लगी आग, इमरजेंसी वार्ड से मरीजों को किया गया शिफ्ट

    Delhi Fire: दिल्ली के LNJP अस्पताल में लगी आग, इमरजेंसी वार्ड से मरीजों को किया गया शिफ्ट

    Delhi Fire दिल्ली समेत गुजरात में आज सुबह दो आग की घटनाएं सामने आई है। यहां लोक नायक जय प्रकाश (LNJP) अस्पताल में भीषण आग लग गई। जिसके बाद यहां अफरा-तफरी का माहौल हो गया। क्योंकि यह आग इमरजेंसी वार्ड (Emergency Ward) में लगी थी। जहां पहले से कई लोग मौजूद थे। आनन-फानन में दमकल विभाग (Fire Department) को सूचित किया गया। जिसके बाद मौके पर कई दमकल की गाड़ियां पहुंची और आग बुझाने में जुट गई।

    इस में हादसे में किसी के हताहत होने की खबर सामने नहीं आई है। वहीं दमकल अधिकारियों द्वारा आग पर काबू पाने की कोशिश की जा रही है। अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड से मरीजों को दूसरी जगह शिफ्ट करने का काम किया जा रहा है। यहां दमकलकर्मी के अलावा दिल्ली पुलिस के जवान भी मौजूद है।

    वहीं दूसरी ओर गुजरात के सूरत में आज सुबह एक पैकेंजिंग कंपनी में अचानक आग (Fire) लग गई। इस हादसे में अब तक दो लोगों की मौत हो चुकी है और रेस्क्यू के दौरान 125 लोगों को बचा लिया गया है। मौके पर 10 फायर ब्रिगेड की गाड़ियां मौके पर मौजूद हैं।

    मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, आग से बचने के लिए कई मजदूर पांच मंजिला इमारत से कूद गए। अभी भी लोगों को फैक्ट्री से बाहर निकाला जा रहा है। बारडोली डिवीजन के डीएसपी रूपल सोलंकी ने जानकारी देते हुए बताया कि कडोदरा के वरेली में आज तड़के एक पैकेजिंग फैक्ट्री में आग लगने से दो लोगों की मौत हो गई। 125 लोगों को बचाया गया है।

    और भी...

  • रणजीत हत्याकांड : राम रहीम सहित पांच दोषियों को CBI Court आज सुनाएगी सजा, जानें पूरा मामला

    रणजीत हत्याकांड : राम रहीम सहित पांच दोषियों को CBI Court आज सुनाएगी सजा, जानें पूरा मामला

    पूर्व डेरा प्रबंधक रणजीत सिंह हत्याकांड ( Ranjit Singh Murder Case ) मामले में पंचकूला स्थित हरियाणा की विशेष सीबीआई कोर्ट द्वारा डेरा सच्चा सौदा प्रमुख ( Dera Sacha Sauda ) गुरमीत राम रहीम ( Gurmeet Ram Rahim ) सहित 5 दोषियों को 18 अक्टूबर को सजा सुनाई जाएगी।

    इस दौरान रणतीज सिंह हत्या मामले का मुख्य आरोपी गुरमीत राम रहीम रोहतक सुनारिया जेल से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए पेश होगा। जबकि आरोपी कृष्ण लाल, अवतार, सबदिल और जसबीर प्रत्यक्ष रूप से पंचकूला स्थित हरियाणा की विशेष सीबीआई कोर्ट में पेश होंगे। सीबीआई कोर्ट ने इन पांचों को आठ अक्टूबर को दोषी करार दिया था। जिसके बाद इन सभी को 12 अक्टूबर को सजा सुनाई जानी थी परंतु कोर्ट ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था। इससे पहले डेरा प्रमुख को सीबीआई कोर्ट ने 25 अगस्त 2017 को साध्वी यौन शोषण मामले में सजा आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई थी। जिसके बाद में सिरसा निवासी पत्रकार रामचंद्र छत्रपति की हत्या मामले में भी दोषी करार दिया गया था।

    पंचकूला पुलिस उपायुक्त मोहित हांडा ने जिले में जान व माल के नुकसान, जिले में किसी भी तरह का तनाव पैदा करने, शांति भंग करने और दंगों की आशंकाओं को देखते हुए धारा 144 लागू की है। जिसके तहत पंचकूला डिस्ट्रिक्ट कोर्ट के साथ लगते सेक्टर 1,2,5,6 और संबंधित क्षेत्र में पड़ने वाले नेशनल हाईवे पर किसी भी व्यक्ति द्वारा तलवार( धार्मिक प्रतीक कृपाण के अलावा) लाठी, डंडा, लोहे की रॉड, बरछा, चाकू, गंडासी, जेली, छतरी या अन्य हथियार लेकर घूमने पर पूर्णतया प्रतिबंध है। साथ ही इन क्षेत्रों में 5 या 5 से ज्यादा लोगों के एकत्रित होने पर भी पूर्णतया प्रतिबंध है। इसका उल्लंघन करने वाले के खिलाफ IPC की धारा 188 के तहत कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

    10 जुलाई 2002 को हत्या हुई थी रणजीत सिंह की हत्या रणजीत सिंह की हत्या डेरा सच्चा सौदा की प्रबंधन समिति के सदस्य रहे और कुरुक्षेत्र जिले के खानपुर कोलिया गांव के रहने वाले रणजीत सिंह की 10 जुलाई 2002 को हत्या हुई थी। वह अपने घर से कुछ ही दूरी पर जीटी रोड के साथ लगते अपने खेतों में नौकरों को चाय पिलाकर वापस घर जा रहे थे। हत्यारों ने अपनी गाड़ी जीटी रोड पर खड़ी रखी और वे धीरे से खेत से आ रहे रणजीत सिंह के पास पहुंचे और काफी नजदीक से उन्हें गोलियों से छलनी कर दिया। गोलियों से भूनने के बाद हत्यारे फरार हो गए।

    सिरसा डेरे के प्रबंधन को यह शक था कि साध्वी यौन शोषण की गुमनाम चिट्ठी रणजीत सिंह ने अपनी बहन से लिखवाई थी। पुलिस की जांच से असंतुष्ट होकर रणजीत के पिता ने जनवरी 2003 में हाईकोर्ट में सीबीआई जांच की मांग के लिए याचिका दायर की थी। तब सीबीआई ने जांच के बाद आरोपियों पर केस दर्ज किया था और 2007 में चार्ज फ्रेम किए थे।

    काबिलेजिक्र है कि मामले का मुख्य आरोपी गुरमीत राम रहीम रोहतक सुनारिया जेल में 2 साध्वियों के यौन शोषण आरोप में 20 साल की सजा व पत्रकार रामचंद्र छत्रपति हत्याकांड में उम्रकैद की सजा काट रहा है।

    और भी...

  • बड़ी खबर: ऐसे लगी सूरत की पैकेजिंग कंपनी में आग, 125 से ज्यादा मजदूरों का रेस्क्यू

    बड़ी खबर: ऐसे लगी सूरत की पैकेजिंग कंपनी में आग, 125 से ज्यादा मजदूरों का रेस्क्यू

    गुजरात के सूरत (Surat in Gujarat) में आज सुबह एक पैकेंजिंग कंपनी में अचानक आग (Fire) लग गई। इस हादसे में अब तक दो लोगों की मौत हो चुकी है और रेस्क्यू (Rescue) के दौरान 125 लोगों को बचा लिया गया है। मौके पर 10 फायर ब्रिगेड की गाड़ियां मौके पर मौजूद हैं।
     

    मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, आग से बचने के लिए कई मजदूर पांच मंजिला इमारत से कूद गए। अभी भी लोगों को फैक्ट्री से बाहर निकाला जा रहा है। बारडोली डिवीजन के डीएसपी रूपल सोलंकी ने जानकारी देते हुए बताया कि कडोदरा के वरेली में आज तड़के एक पैकेजिंग फैक्ट्री में आग लगने से दो लोगों की मौत हो गई। 125 लोगों को बचाया गया है।

     

    और भी...

  • Mausam Ki Jankari: दिल्ली-हरियाणा समेत 10 राज्यों में बारिश का अलर्ट, जानें अपने राज्य का स्टेटस

    Mausam Ki Jankari: दिल्ली-हरियाणा समेत 10 राज्यों में बारिश का अलर्ट, जानें अपने राज्य का स्टेटस

    Mausam Ki Jankari: राजधानी दिल्ली समेत एनसीआर (Delhi-NCR) में मौसम (Weather) ने करवट लेनी शुरू कर दी है। रविवार से रिमझिम बारिश (Heavy Rain) सोमवार की सुबह तक जारी है। दिल्ली, नोएडा, गुरुग्राम, गाजियाबाद, नरेला, (Delhi, Noida, Gurugram, Ghaziabad, Narela) जैसे इलाकों में बादल छाए हुए हैं। बीती रात से ही तेज बारिश हो रही है।

    मौसम विभाग के मुताबिक, यह बारिश आगे भी जारी रह सकती है। 18 अक्टूबर तक मौसम विभाग ने पहले ही अपडेट किया था। वहीं नोएडा में रविवार रात से बारिश हो रही है। हवाओं ने भी लोगों को ठंड का अहसास करा दिया है। इसके साथ ही लगातार बारिश से तापमान में भी गिरावट आई है। ताजा अपडेट के मुताबिक, 18-19 अक्टूबर को भी उत्तर भारत में बारिश जारी रहेगी। हालांकि, 20 अक्टूबर से दक्षिणी राज्यों में बारिश का एक और दौर होने का अनुमान लगाया गया है।

    इसके अलावा केरल में भारी बारिश को लेकर अलर्ट जारी है। अब तक 26 लोगों की मौत हो चुकी है। राज्य के कई जिलों में लगातार बारिश के कारण कई पुल टूट गए। जिससे लोगों का संपर्क टूट गया। साथ ही, भूस्खलन में कम से कम कई घर बह गए हैं।

    स्काईमेट एजेंसी ने जानकारी दी है कि अगले 24 घंटों के दौरान, गंगीय पश्चिम बंगाल, तटीय ओडिशा, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, हरियाणा के कुछ हिस्सों, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड और केरल के अलग-अलग हिस्सों में बारिश हो सकती है। दक्षिणी राज्यों में यह घटने लगा है। मध्य भारत में 20 अक्टूबर तक और पूर्वोत्तर में 21 अक्टूबर तक बारिश का सिलसिला जारी रहने की संभावना है।

    और भी...

  • क्या पुंछ में भारतीय सेना के खिलाफ पाकिस्तान कमांडो भी आतंकवादियों का दे रहे साथ, पढ़ें ये रिपोर्ट

    क्या पुंछ में भारतीय सेना के खिलाफ पाकिस्तान कमांडो भी आतंकवादियों का दे रहे साथ, पढ़ें ये रिपोर्ट

    जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) के एलओसी (LOC) इलाकों से लगातार आतंकवादियों की घटना और मुठभेड़ की खबरों के बीच एक बड़ा दावा पुंछ (Poonch Encounter) में किया गया है। एक मीडिया रिपोर्ट में दावा किया गया है कि सुरक्षाबल और स्थानीय पुलिस लगातार आतंकवादियों से लड़ रहे हैं लेकिन उन्हें ट्रेनिंग पाकिस्तान के कमांडो ने दी थी।

    सेना के 9 जवान शहीद

    दावा किया गया है कि पुंछ के सुरनकोट जंगल में ऑपरेशन में दो जवानों की शहादत के साथ अब तक 9 जवान शहीद हो चुके हैं। इस मुठभेड़ के दौरान अभी तक किसी भी आतंकवादी के मारे जाने की सूचना नहीं मिली है। अभी तक कोई शव भी नहीं बरामद हुआ है। अभी भी कई इलाकों में भारी घेराबंदी और भारी गोलाबारी के बावजूद कम से कम 9 से 10 किलोमीटर के इस जंगल में मुठभेड़ जारी है।

    10 अक्टूबर से एलओसी पर मुठभेड़ जारी

    नियंत्रण रेखा के पास पुंछ के डेरा वाली गली इलाके में 10 अक्टूबर की रात इन आतंकियों से पहली मुठभेड़ में एक जेसीओ समेत पांच जवान शहीद हो गए थे। इसके बाद गुरुवार को आतंकियों की तलाश कर रहे सेना के एक दल पर नर खास के जंगलों में घात लगाकर हमला किया गया। इसमें दो जवान शहीद हो गए और एक जेसीओ समेत दो अन्य लापता हो गए। दो दिन बाद कड़े ऑपरेशन के बाद उनके शव बरामद किए गए।

    पाकिस्तान को लेकर दावा

    सूत्रों ने जानकारी देते हुए बताया कि कई सुरक्षाबलों से बचने के लिए आतंकवादी 8 दिनों से लड़ रहे हैं। उन्हें पाकिस्तानी सेना के कमांडो द्वारा ट्रेनिंग दी गई है। सेना को शक है कि पुंछ एनकाउंटर मे आतंकियों के साथ पाकिस्तानी कमांडो भी हो सकते हैं। लेकिन हम निश्चित रूप से तभी जान पाएंगे जब वे मारे जाएंगे।

    जानकारी के लिए बता दें कि ये एनकाउंटर बीती 10 अक्टूबर की रात पुंछ से शुरू हुआ था। मुठभेड़ की शुरुआत में ही एक जेसीओ समेत सेना के 5 जवान शहीद हो गए थे। इसके बाद पूरे इलाके में सेना और स्थानीय पुलिस ने मिलकर सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया और इस दौरान ये आतंकी सुरक्षाबलों को चकमा देकर भागने में सफल रहे। इसके बाद 14 अक्टूबर को पुंछ के नर खास के जंगलों में इन आतंकियों को सुरक्षाबलों ने घेर लिया था। सर्च ऑपरेशन के दौरान सेना के 4 जवान लापता हो गए। इनमें से 2 के शव बीते शुक्रवार को बरामद हुए और 2 शव शनिवार को मिले। इसके बाद सेना और पुलिस ने मिलकर जंगल में एक लंबा सर्च ऑपरेशन शुरु किया है।

    और भी...

  • किसानों का रेल रोको अभियान : SKM का दावा- साेमवार को देशभर में रेल सेवा की जाएगी बाधित

    किसानों का रेल रोको अभियान : SKM का दावा- साेमवार को देशभर में रेल सेवा की जाएगी बाधित

    संयुक्त किसान मोर्चा ( Skm ) ने दावा किया है कि सोमवार यानि 18 अक्टूबर को देशभर में रेल रोका अभियान चलाते हुए रेल सेवा को बाधित रखा जाएगा। एसकेएम के अनुसार यह अभियान लखीमपुर खीरी किसान नरसंहार मामले में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी को मंत्री पद से बर्खास्त करके तुरंत गिरफ्तार करने की मांग समेत न्याय सुनिश्चित करने के लिए घोषित कार्यक्रम का हिस्सा है।

    रविवार को अपने ब्यान में एसकेएम ने रेल संपत्ति को नुकसान पहुंचाए बिना रेले रोकने की अपील करते हुए आंदोलन को शांतिपूर्ण रखने की बात कही है। इसके साथ ही सभी घटकों से दिशानिर्देश का सख्ती से पालन करने की अपील की है।

    संयुक्त किसान मोर्चा समन्वय समिति के सदस्य बलबीर राजेवाल ने रविवार को कहा कि 3 अक्टूबर 2021 को लखीमपुर खीरी किसान नरसंहार के तुरंत बाद मोर्चा ने इस नरसंहार की घटना में न्याय सुनिश्चित करने के लिए कई कार्यक्रमों की घोषणा की थी। एसकेएम शुरू से ही अजय मिश्रा टेनी को मोदी सरकार में मंत्रिपरिषद से बर्खास्त करके गिरफ्तार करने की मांग करता रहा है। उन्होंने कहा कि यह स्पष्ट है कि अजय मिश्रा के मंत्री पद पर होने के कारण इस मामले में न्याय की उम्मीद नहीं है।

    सुबह 10 बजे से शाम 4 बजे तक रोकेंगे रेल

    एसकेएम के अनुसार अजय मिश्रा की बर्खास्तगी से लेकर गिरफ्तारी की मांग के लिए पूर्व घोषित कार्यक्रम में अनुसार संयुक्त किसान मोर्चा और उसके सहयोगी घटक 18 अक्टूबर को पूरे भारत में रेल सेवाएं सुबह 10 से शाम 4 बजे तक बाधित रखेंगे। उनका यह कार्यक्रम रेल संपत्ति को बिना क्षति पहुंचाए पूरी तरह से शांतिपूर्ण रहेगा। साथ ही उन्होंने कहा कि न्याय मिलने तक आंदोलन को और तेज किया जाएगा। एसकेएम ने कहा कि लखीमपुर खीरी किसान हत्याकांड के शहीदों की अस्थियों के साथ उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, पंजाब और अन्य राज्यों में विभिन्न मार्गों पर शहीद कलश यात्राएं निकाली जा रही है। यात्राओं की अगवानी के लिए भारी संख्या में किसान व आम आदमियों की भीड़ उमड़ रही है। इस मौके पर भारी भीड़ का उमड़ना शहीदों के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि को दर्शाता है।

    और भी...

  • दिल्ली के शालीमार बाग में बन रहा 1430 बिस्तरों वाला नया सरकारी अस्पताल, CM केजरीवाल ने रखी आधारशिला

    दिल्ली के शालीमार बाग में बन रहा 1430 बिस्तरों वाला नया सरकारी अस्पताल, CM केजरीवाल ने रखी आधारशिला

    Delhi New Hospital दिल्ली के शालीमार बाग (Shalimar Bagh) में लोगों के लिए नया अस्पताल (New Hospital) बनना शुरू हो गया। आज यहां मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) ने 1430 बिस्तरों वाले सरकारी अस्पताल की आधारशिला रखी।

    इस मौके पर दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन (Delhi Health Minister Satyendar Jain) एवं शालीमाग बाग की विधायक बंदना कुमारी (Shalimag Bagh MLA Bandana Kumari) भी मौजूद थीं। इसके बाद उन्होंने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि अगले छह महीने में यह अस्पताल बनकर तैयार हो जाएगा।

    उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर के दौरान (Corona Second Wave) शहर में अस्पतालों में बिस्तरों, आईसीयू एवं चिकित्सीय ऑक्सीजन की बड़ी कमी नजर आयी।

    जिम्मेदार सरकार होने के नाते हम कोरोना की तीसरी लहर (Corona Third Wave) के सिलसिले में सभी महत्वपूर्ण कदम उठा रहे हैं। आज (रविवार को) मैंने यहां 1430 बिस्तरों वाले इस नये सरकारी अस्पताल की आधारशिला रखी है।

    1400 से ज्यादा होंगे आईसीयू बिस्तर

    ये सारे आईसीयू बिस्तर होंगे और हर शैय्या के साथ ऑक्सीजन आपूर्ति की सुविधा होगी। उन्होंने कहा कि सरकार शहर में कुल 6800 बिस्तरों की क्षमता वाले सात नये अस्पतालों का निर्माण करवा रही है जिससे शहर में स्वास्थ्य अवसंरचना एवं चिकित्सा सुविधा को बल मिलेगा। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि सरकार अंतरराष्ट्रीय मापदंडों के अनुसार इन अस्पतालों को बनायेगी।

    इससे अस्पतालों में भीड़भीड़ होगी खत्म

    उन्होंने कहा कि सरकार स्वास्थ्य सूचना प्रबंधन प्रणाली (एचआईएमएस) लागू करेगी जिससे विश्व स्तरीय चिकित्सा सुविधाएं मिलने में मदद होगी। उन्होंने कहा कि एचआईएमएस के जरिए सरकार के पास नागिरकों के सभी चिकित्सा संबंधी आंकड़े होंगे और लोग सरकारी अस्पतालों में डॉक्टरों के साथ ऑनलाइन समय बुक करा पाएंगे। इससे अस्पतालों में भीड़भीड़ खत्म होगी। केजरीवाल ने कहा कि हम नागिरकों के बीच स्वास्थ्य कार्ड भी वितरित करेंगे। लोग इन कार्डों से अस्पतालों में मुफ्त इलाज करा पायेंगे।

    और भी...

  • सिर्फ 19 दिन में इतने बढ़ गए तेल के रेट, क्लिक कर जानें यहां बढ़े पेट्रोल डीजल के नए दाम

    सिर्फ 19 दिन में इतने बढ़ गए तेल के रेट, क्लिक कर जानें यहां बढ़े पेट्रोल डीजल के नए दाम

    अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमत के चलते हर दिन भारत में पेट्रोल-डीजल (Petrol Diesel Price Update) के दाम बाजार में नई ऊंचाई को छू रहे हैं। आज रविवार को एक बार फिर तेल की कीमतों पर महंगाई सातवें आसमान पर दिखी। ऑयल मार्केटिंग कंपनियों (oil marketing companies) ने पेट्रोल पर 35 पैसे और डीजल पर भी 35 पैसे की बढ़ोतरी की है। लेकिन बीते 19 दिनों के अंदर पेट्रोल-डीजल के बढ़े दामों ने आम आदमी का दम ही निकाल दिया है।

    दिल्ली में पेट्रोल की कीमत बढ़ी हुई 105.84 रुपये हो गई है। जबकि डीजल की कीमत 94.57 रुपये प्रति लीटर है। मुंबई में पेट्रोल की कीमत 111.77 रुपये और डीजल की कीमत 102.52 रुपये प्रति लीटर हो चुकी है। कोलकाता में पेट्रोल की कीमत 106.43 रुपये जबकि डीजल की कीमत 97.68 रुपये प्रति लीटर है।

    19 दिन में इतना महंगा हुआ तेल

    वहीं, चेन्नई में पेट्रोल 103.01 रुपये प्रति लीटर और डीजल 98.92 रुपये प्रति लीटर बिक रहा है। ये 4 महानगर हैं, जहां पर तेल इतने रुपये लीटर बिक रहा है। लेकिन एक रिपोर्ट के मुताबिक, 19 दिनों में डीजल करीब 6 रुपये प्रति लीटर महंगा हो गया है। इसके पीछे पेट्रोल भी है। यह 16 दिनों में 4.65 रुपये महंगा हो गया है।

    आज के पेट्रोल-डीजल के महानगरों में दाम

    01. दिल्ली में पेट्रोल 105.84 रुपये और डीजल 94.57 रुपये प्रतिलीटर

    02. मुंबई में पेट्रोल 111.77 रुपये और डीजल 102. रुपये प्रतिलीटर

    03. कोलकाता में पेट्रोल 106.43 रुपये और डीजल 97.68रुपये प्रतिलीटर

    04. चेन्नई में पेट्रोल 103.01 रुपये और डीजल 98.92 रुपये प्रतिलीटर

    और भी...

  • सीडब्ल्यूसी की बैठक सिर्फ औपचारिकता, सोनिया गांधी हैं 21 साल से कांग्रेस की बॉस: नटवर सिंह

    सीडब्ल्यूसी की बैठक सिर्फ औपचारिकता, सोनिया गांधी हैं 21 साल से कांग्रेस की बॉस: नटवर सिंह

    पूर्व विदेश मंत्री नटवर सिंह (Former External Affairs Minister Natwar Singh) ने रविवार को कहा है कि कांग्रेस कार्य समिति (CWC- सीडब्ल्यूसी) की बैठक सिर्फ औपचारिकता है। सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) 21 वर्ष से कांग्रेस (Congress) की बॉस हैं।

    सीडब्ल्यूसी की शनिवार को हुई बैठक का कोई ठोस परिणाम नहीं निकला है। क्योंकि, बैठक से पहले शोर मचाने वाले सदस्य मीटिंग के दौरान मौन रहे। इसके अलावा पूर्व विदेश मंत्री ने कहा कि कांग्रेस जिस तरह से जमीन पर प्रदर्शन कर रही है। उसे देखा जाए तो कांग्रेस पार्टी आगामी विधानसभा चुनावों में 5 में से एक भी राज्य नहीं जीत पाएगी।

    पूर्व विदेश मंत्री नटवर सिंह (Natwar Singh) ने समाचार एजेंसी एएनआई से बातचीत के दौरान कहा कि सीडब्ल्यूसी बैठक (CWC meeting) सिर्फ एक औपचारिकता थी। सोनिया गांधी 21 साल से पार्टी की पूर्णकालिक बॉस हैं। कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष का अगला चुनाव सितंबर 2022 को होगा।

    पार्टी अध्यक्ष (Party President) के लिए कोई रिक्ति नहीं थी। सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ही पार्टी की बॉस (boss) हैं। वह 21 साल से कांग्रेस पार्टी की बागडोर संभाल रही हैं।

    कांग्रेस के पूर्व दिग्गज ने आगे यहा भी कहा कि कांग्रेस को मिलकर काम करना की जरूरत है। कांग्रेस पार्टी राजनीति में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से पिछड़ जाएगी। मुझे नहीं लगता है कि कांग्रेस पार्टी अगामी पांच राज्यों में से एक से अधिक राज्यों में अपनी जीत दर्ज करेगी, क्योंकि उसका कोई संगठन नहीं है। लेकिन ये भी सच है कि कोई अन्य पार्टी नहीं है। कांग्रेस के अलावा जो विपक्ष की भूमिका निभा सकती है।

    और भी...

  • बीमार पिता को किडनी डोनेट करना चाहता है ड्रग्स केस में बंद बेटा, सुप्रीम कोर्ट ने सुनाया फैसला

    बीमार पिता को किडनी डोनेट करना चाहता है ड्रग्स केस में बंद बेटा, सुप्रीम कोर्ट ने सुनाया फैसला

    सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने ड्रग मामले (Drugs Case) के एक आरोपी द्वार अपने बीमार पिता को किडनी (kidney) देने की इच्छा जताने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की। जिसको लेकर सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला देते हुए अनुमति दे दी है लेकिन एक शर्त रख दी। कोर्ट ने कहा कि आवश्यक चिकित्सा जांच के लिए जेल सेअस्पताल स्थानांतरित करने की अनुमति दी जाती है।

    कोर्ट ने याचिका पर कहा कि अगर आरोपी किडनी डोनेट करने के लिए चिकित्सकीय रूप से फिट पाया जाता है, तो वह अंतरिम जमानत पाने के लिए मध्य प्रदेश हाईकोर्ट में याचिका दायर कर सकता है। अपने फैसले में कहा आरोपी किडनी ट्रांसप्लांट की प्रक्रिया का हिस्सा बन सकता है। लेकिन पहले उसे अपना मेडिकल करवाना होगा। तो आरोपी मध्य प्रदेश हाईकोर्ट में अंतरिम जमानत की अर्जी दाखिल कर सकता है, जिस पर सहानुभूतिपूर्वक विचार किया जाना चाहिए।

    न्यायमूर्ति इंदिरा बनर्जी और न्यायमूर्ति जेके माहेश्वरी की पीठ ने इस मामले पर सुनवाई की। मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय के आदेश को चुनौती देने वाली एक अर्जी पर सुनवाई के दौरान यह बयान दिया गया। हाईकोर्ट ने जमानत याचिका खारिज कर दी थी। याचिकाकर्ता के वकील ने कहा था कि आरोपी के पिता गुर्दे की विफलता से पीड़ित हैं और उन्हें जल्द ही प्रतिरोपित किए जाने की जरूरत है।

    और भी...

  • पश्चिम बंगाल: दुर्गा विसर्जन से लौट रही भीड़ पर बम से हमला, कई गाड़ियों में तोड़फोड़

    पश्चिम बंगाल: दुर्गा विसर्जन से लौट रही भीड़ पर बम से हमला, कई गाड़ियों में तोड़फोड़

    छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश के बाद बंगाल (West Bengal) में दुर्गा विसर्जन के बाद हमले की खबर मिली है। बंगाल के दुर्गापुर (Durgapur) में दुर्गा विसर्जन (Durga Puja) से लौट रही भीड़ पर कुछ हमलावरों ने हमला कर दिया। देसी बम और हथियारों से भीड़ पर हमला कर दिया।
     

    मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, बीते शनिवार को कुछ हमलावरों ने देसी बम और हथियार से मूर्ति विसर्जन कर घर लौट रहे लोगों पर हमला कर दिया। इस दौरान वाहनों में तोड़फोड़ भी की गई। पुलिस ने इस मामले को दर्ज कर हमलावरों की तलाश शुरू कर दी है। जगह जगह छापेमारी की जा रही है।

    जानकारी के लिए बता दें कि कुछ श्रद्धालु दुर्गा पूजा के बाद मूर्ति विसर्जन करके लौट रहे थे। तभी उनके ऊपर कुछ हमलावरों ने हमला कर दिया। देसी बमों से श्रद्धालुओं को निशाना बनाया गया। कई गाड़ियों के शीशे भी तोड़ दिए। एक गुट ने दूसरे गुट से शराब के लिए पैसा मांगा, जिसके बाद दोनों में झड़प हो गई। अभी हमलावरों की पहचान की जा रही है। पुलिस भी पूरे मामले को लेकर सतर्क है।

    और भी...

  • होटल पर थूक लगाकर तंदूरी रोटी बनाता था तमीजुद्दीन, वीडियो वायरल होने पर पुलिस ने किया गिरफ्तार

    होटल पर थूक लगाकर तंदूरी रोटी बनाता था तमीजुद्दीन, वीडियो वायरल होने पर पुलिस ने किया गिरफ्तार

    दिल्ली से सटे गाजियाबाद में एक बार फिर बहुत हैरान करने वाला वीडियो सामने आया है। यह वायरल वीडियो (Viral Video) होटल पर तंदूरी रोटी बनाने वाले कारीगर है। वीडियो वायरल होते ही कई संगठनों ने होटल पर जमकर हंगामा किया। जिसके बाद पुलिस ने आरोपी कारीगर को गिरफ्तार कर होटल को बंद करा दिया। जी हां, इसकी वजह आरोपी कारीगर द्वारा तंदूरी रोटी बनाते समय उसमें थूक डालना था। कारीगर की यह हरकत किसी ने कैमरे में कैद कर वीडियो वायरल कर दी।

    जानकारी के अनुसार, तंदूर में रोटी बनाते समय थूक डालने वाला यह वीडियो (Ghaziabad) गाजियाबाद के थाना सिहानीगेट क्षेत्र स्थित राकेश मार्ग के चिकन प्वाइंट नामक एक एक होटल का बताया जा रहा है। यहां पर तमीजुद्दीन नामक शख्स तंदूर पर रोटी बनाता था। आरोप है कि तमीजुद्दीन रोटी बनाते समय थूक देता था। इसके बाद यह तंदूरी रोटी बनकर सीधे ग्राहक के पास पहुंच जाती थी। आरोपी तमीजुद्दीन की यही हरकत किसी ने कैमरे में कैद कर इसका वीडियो वायरल कर दिया। जिसके बाद कई संगठनों ने मौके पर पहुंचकर हंगामा किया। इसके साथ मामले की जानकारी पुलिस को दे दी।
     

    पुलिस ने वायरल वीडियो देख आरोपी को गिरफ्तार किया

    पुलिस ने शिकायत मिलते ही वायरल वीडियो देख आरोपी तमीजुद्दीन को गिरफ्तार कर लिया। वहीं आरोपी कारीगर की हरकत से भड़के लोगों ने होटल को बंद करा दिया। बता दें कि इससे पहले भी तंदूर की रोटी या खाना बनाते समय थूक डालने व दूसरी गंदी हरकत करने के वीडियो सामने आ चुके हैं। हाल ही में एक सगाई में थूक लगाकर रोटी बनाने का वीडियो भी सामने आया था। जिस पर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आरोपी मोहसिन नामक शख्स को गिरफ्तार कर लिया था।

    और भी...